in

आपके किचन में मौजूद ये 5 चीजें, बचा सकती हैं ओमिक्रोन से

आपके किचन में मौजूद ये 5 चीजें, बचा सकती हैं ओमिक्रोन से

सर्दी-जुकाम के साथ ओमिक्रोन से बचा सकते हैं ये घरेलू नुस्खे

जनवरी के महीने में कड़ाके की ठंड पड़ती है जिस कारण अधिकांश लोगों में सर्दी-खांसी की समस्या रहती है। इस गिरते तापमान का सबसे ज्यादा असर बच्चों और बुजुर्गों पर पड़ता है।

सर्दियों में चलने वाली ठंडी हवाओं से जुकाम होने में समय नहीं लगता और ऊपर से कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रोन से भी लोगों में डर बना हुआ है।

BKD School
BKD School

ऐसी स्थिति में आपको बहुत सावधानी बरतनी पड़ेगी। यदि आप घरेलू नुस्खे और खान-पान में सावधानी बरतते हैं तो काफी हद तक ठंड और कोरोना से बचा जा सकता है।

आइए जानें कुछ घरेलू नुस्खे…

खांसी-जुकाम से बचाएंगे ये घरेलू नुस्खे

1. शहद और अदरक का रस :

सर्दियों में अक्सर आपने लोगों को शहद और अदरक का रस पीते हुए देखा हुआ| यह नुस्खा दादी-नानी के नुस्खे में से एक कारगर नुस्खा है। यदि आपको भी जुकाम हो गया है तो आप दिन में तीन बार अदरक के रस के साथ शहद मिलाकर हल्का गर्म करके पी सकते है। इससे आपका जुकाम 1-2 दिन में एकदम सही हो जाएगा।

2. हल्दी वाला दूध :

सर्दियों में इम्युनिटी को बूस्ट करने के लिए प्रतिदिन हल्दी वाला दूध पीना चाहिए। हल्दी वाले दूध में एंटीबायोटिक होते है जो किसी भी प्रकार के इंफेक्शन से बचाने के लिए कारगर हैं। हल्दी वाले दूध का सेवन करने से आप सर्दी-खासी की समस्या से काफी हद तक बच सकते है।

3. च्वनप्राश :

आयुर्वेद की दुनिया में च्वनप्राश को एक औषधि माना जाता है। सर्दियों के समय में आपको रोजाना दूध के साथ च्वनप्राश पीना चाहिए। क्योंकि इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन C पाया जाता है जो कि आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। इसका इस्तेमाल करने से आप सर्दी-खासी से भी छुटकारा पा सकते हैं।

4. तुलसी और लौंग :

सर्दियों में सर्दी जुकाम की समस्या होने पर आप तुलसी और लौंग का इस्तेमाल कर सकते हैं। यदि आपको खासी कुछ अधिक हो रही है तो लौंग को पीसकर इसे शहद के साथ इस्तेमाल कर सकते हैं, इससे खासी में काफी राहत मिलेगी। आप तुलसी का सेवन चाय में डालकर भी कर सकते है और इसे अच्छा बनाने के लिए चीनी की जगह गुड़ डाल सकते है।

5. गरारे करना और भाप लेना :

सर्दियों में सर्दी जुकाम से बचने की लिए सप्ताह में आपको 2-4 बार भाप अवश्य लेनी चाहिए। भाप लेने से नाक बंद नहीं होती और सांस की नली में भी सूजन कम होता है। साथ ही, गले की खराश के लिए आप गरारे भी कर सकते हैं।

दोस्तों, देश- विदेश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहे आपके अपने न्यूज़ घाट के साथ।

हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newsghat पर और व्हाट्सएप ग्रुप में ज्वाइन होने के लिए @newsghat पर क्लिक करें।

Written by Newsghat Desk

Loan Tips : नही मिल रहा लोन ? ये हैं एप्लीकेशन क्लियर कराने के टिप्स

सावधान : नहीं छोड़ी ये 8 आदतें तो हो सकती है आपकी किडनी डैमेज…