in

कांटी मशवा स्कूल में किशोरियों और महिलाओं को किया जागरूक

कांटी मशवा स्कूल में किशोरियों और महिलाओं को किया जागरूक

वो दिन योजना के अन्तर्गत एक दिवसीय शिविर का आयोजन राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय कांटी मशवा में आयोजित किया गया। इस दौरान महिलाओं को जागरूक किया गया।

मंगलवार को बाल विकास परियोजना के सौजन्य से राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कांटी मशवा के प्रधानाचार्य जगदीश शर्मा की अध्यक्षता में किया गया।

BKD School
BKD School

बाल विकास परियोजना वृत कमरऊ की पर्यवेक्षक ने इस योजना के अन्तर्गत मासिक धर्म स्वच्छता के बारे में जाकारी दी।

उन्होंने कहा कि मासिक धर्म एक ऐसा विषय है जिसके सम्बन्ध में आज भी हमारे समाज में खुलकर बात नहीं की जाती है।

मासिक धर्म के दौरान महिलाओं व किशोरियों को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। मासिक धर्म प्रथाओं को अभी भी कई सामाजिक सांस्कृतिक एंव धार्मिक प्रतिबन्धों का सामना करना पड़ता है। जो कि मासिक श्रम स्वच्छता प्रबन्धन में बहुत बड़ी बाधा है।

मासिक धर्म के दौरान महिलाओं व किशोरियों को स्वच्छता का विशेष ध्यान रखने व उचित आहार व्यवहार, हर रोज, स्नान करना पड़ता है।

उन्होंने कहा कि महिलाओं को चाहिए कि वे अपनी बेटियों के साथ वो दिन के बारे में खुलकर बात करें क्योंकि शुरुआत के दिनों में लड़कियों को इस विषय में जानकारी नहीं होती।

इसके अलावा बच्चों के जन्म के दो वर्ष शारीरिक, मानसिक तौर पर बहुत ही महत्वपूर्ण होते है। इन 1000 दिनों में गर्भावस्था के दौरान महिला को और उसके बाद प्रसव के दौरान महिला और बच्चों को सन्तुलित आहार और विशेष देखभाल की आवश्यकता होती है।

आयुष विभाग से सुनीता देवी द्वारा अनिमिया के बारे में विस्तार पूर्वक किशोरियों व महिलाओं को जानकारी दी गई।

Written by Newsghat Desk

पांवटा साहिब : डीएसपी रमाकांत ठाकुर ने ज्वैलर्स के साथ की अहम बैठक, इन मुद्दों पर हुई चर्चा

आंजभोज क्षेत्र के बनौर निवासी 108 वर्षीय धूडू राम मतदान के लिए बने प्रेरणास्रोत