in

क्या अब निजी अस्पतालो में नहीं मिल पाएंगे आयुष्मान हिमकेयर के लाभ, पढ़ें क्या बोले स्वास्थ्य मंत्री धनीराम शांडिल

क्या अब निजी अस्पतालो में नहीं मिल पाएंगे आयुष्मान हिमकेयर के लाभ, पढ़ें क्या बोले स्वास्थ्य मंत्री धनीराम शांडिल….

हिमाचल प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री धनीराम शांडिल ने कहा कि प्रदेश के सरकारी अस्पतालों में मरीज को समय पर उचित इलाज उपलब्ध करवाने के लिए डॉक्टरों के लिए अस्पताल परिसर में ही आवासीय सुविधा मुहैया करवाई जाएगी।

इसके लिए प्रदेश सरकार की ओर से आवासीय परिसर विकसित करने के लिए चरणबद्ध तरीके से प्रयास किए जाएंगे। इससे मरीजों को हर समय त्वरित इलाज की सुविधा मिल सकेगी।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि स्वास्थ्य विभाग का कार्य मानवता और करुणा से जुड़ा है। इसलिए स्वास्थ्य विभाग के प्रत्येक कर्मचारी को सेवा भाव तथा समर्पण से अपनी ड्यूटी निभानी चाहिए।

सिविल अस्पताल शाहपुर में पहुंचने पर स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि कांगड़ा जिला के प्रवास के दौरान उन्होंने पाया कि कई अस्पतालों में ओटीए (ऑपरेशन थियेटर सहायक) के पद रिक्त चल रहे हैं। इन पदों को भरने के बारे में गंभीरता से विचार किया जाएगा।

Holi-2
Holi-2

उन्होंने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं को और अधिक सुदृढ़ किया जाएगा, ताकि दूर-दराज के लोगों को अच्छी स्वास्थ्य सुविधा मिल सके। प्रदेश में अस्पतालों को इस तरह से विकसित किया जाएगा कि गरीब नागरिक भी अपना इलाज अच्छे से करवा सके।

बता दें कि निजी अस्पताल प्रबंधन हेमकेयर और आयुष्मान योजना कार्ड में चिकित्सा सुविधा देने से मना कर रहे हैं। इसको लेकर इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ऊना इकाई ने उपमुख्यमंत्री मुकेश अग्निहोत्री से भी मुलाकात की थी।

इन्होंने 20 जनवरी से चिकित्सा सुविधा बंद करने का एलान किया था। निजी अस्पताल प्रबंधकों के सरकार के पास 20 से 25 लाख तक के बिल पेंडिंग हैं।

स्वास्थ्य मंत्री धनीराम शांडिल ने कहा कि हिमाचल के निजी अस्पतालों में लोगों को आयुष्मान और हिमकेयर योजना के तहत चिकित्सा सुविधा मिलती रहेगी। स्वास्थ्य मंत्री धनीराम शांडिल ने कहा कि निजी अस्पताल प्रबंधन के लिए बकाया राशि का जल्द भुगतान होगा। इसको लेकर अधिकारियों के साथ बैठकें चल रही हैं।

Written by Newsghat Desk

राजकीय विद्यालय बनकला के आटोमोटिव विषय के विद्यार्थियों ने किया औद्योगिक भ्रमण…..

फिल्मी स्टाइल में पिस्तौल दिखाकर लूट ली सुनार की दुकान, दो मिनट में 15 लाख की चपत लगा कर फरार