in

गुरु गोबिंद सिंह राजकीय महाविद्यालय में आयोजित राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस पर समाजसेवियों द्वारा लगाए गए विशेष शिविर…

गुरु गोबिंद सिंह राजकीय महाविद्यालय में आयोजित राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस पर समाजसेवियों द्वारा लगाए गए विशेष शिविर…

महाजन ने बतौर मुख्य अतिथि की शिरकत…..

गोविंद सिंह राजकीय महाविद्यालय में आयोजित राष्ट्रीय सेवा योजना दिवस के तहत समाजसेवियों द्वारा शिविर के दूसरे व तीसरे दिन समाज स्वयंसेवी शिवानी के नेतृत्व में योगाभ्यास किया बनाया गया नाश्ता ग्रहण करने के बाद दूसरे दिन कुंजा मंत्रालयों में पंचायत घर थाना एवं परिसर सड़कों की साफ-सफाई की गई।

शिविर के तीसरे दिन एन एस एस इकाई ने महाविद्यालय परिसर में लगे पौधों की छंटाई, क्यारियों, पानी के स्रोतों एवम मैदान की साफ सफाई की। दूसरे दिन के तकनीकी सत्र में डॉ विवेक नेगी ने बतौर स्त्रोत वक्त शिरकत करके प्रार्थना की महत्ता पर प्रकाश डाला। स्वंयसेवी अमीषा और सौरव ने इस दौरान अपने विचार प्रस्तुत किये।

दूसरे दिन के दूसरे सत्र में पांवटा शहर में उपमंडलाधिकारी विवेक महाजन ने बतौर मुख्य वक्ता शिरकत की। प्रोग्राम अफसर प्रो रीना चौहान ने विवेक महाजन का स्वागत किया व सत्र 2021-22 की रेगुलर गतिविधियों का विवरण तथा प्रोजेक्टर पर पावर पॉइंट प्रस्तुतिकरण किया।

BKD School
BKD School

एसडीएम विवेक महाजन ने स्वंयसेवकों के काम और उत्साह की प्रशंसा करते हुए कहा कि एन एस एस इकाई ने शहर में अपनी एक अमिट छाप छोड़ी है।

उन्होंने कहा कि इकाई के इस उत्साह को बनाएं रखने में प्रशासन भविष्य में हरसंभव प्रयास करेगा। इस दौरान समीर और आशिक खान ने मंच संचालन किया।

डॉ जय चंद ने अतिथि महोदय का धन्यवाद ज्ञापन प्रस्तुत करते हुए कहा कि उनके आने से महाविद्यालय के विद्यार्थियों में एक नई ऊर्जा का संचार होता है।
तकनीकी सत्र के पश्चात दूसरे दिन स्वंयसेवकों ने महाविद्यालय परिसर के बागीचों की सफाई की.तीसरे दिन डॉ वाई एस परमार स्नातकोत्तर महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ वीना राठौर स्वंयसेवकों का मनोबल बढ़ाने हेतु उपस्थित रहें।

वहीं,स्वंयसेवकों ने महाविद्यालय की पूर्व प्राचार्या डॉ वीना राठौर के सानिध्य में एन एस एस वाटिका में पौधरोपण किया। अपने संवाद में प्राचार्या डॉ वीना राठौर ने अपने कार्यकाल के दौरान विशेष रूप से कोरोना काल के दौरान स्वंयसेवकों के उत्साह ,समाज सेवा के प्रति लगाव एवम प्रयास की सराहना की।

दूसरे तकनीकी सत्र में श्री सुरेंदर कमांडर ने स्वंयसेवकों को आपदा प्रबंधन के बारे में जानकारी दी। उन्होंने प्रत्येक समूह को मंच पर बुलाकर आपदा के दौरान रोगी को फर्स्ट एड देने व अस्पताल तक पहुंचाने के विभिन्न तरीकों व सावधानियों को व्यावहारिक रूप से अवगत करवाया।

इसके बाद स्वंयसेवकों के 6 समूहों के बीच एकल नृत्य एवम एकल भजन गायन प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रो रीना चौहान प्रोग्राम अफसर ने कहा कि ये गतिविधियां स्वंयसेवकों का आत्मविश्वास बढाकर उनके व्यक्तित्व का चहुँमुखी विकास करती है।

इस अवसर पर पूर्व प्राचार्या डॉ वीना राठौर, कार्यालय अधीक्षक श्री नरेश बत्रा, श्री जसमेर सिंह, श्री जावेद , प्रोग्राम अफसर प्रो रीना चौहान एवम डॉ जय चंद मौजूद रहे।

Written by Newsghat Desk

उफ : अब मंगलवार को पावंटा साहिब के इन क्षेत्र में रहेगी बिजली आपूर्ति बाधित….

सिरमौर में 13 वर्षीय नाबालिक छात्रा से निजी स्कूल बस में हुई छेड़छाड़, तीन पुलिस हिरासत में..