in

पांवटा साहिब आईटीआई में सेवानिवृत्त पुलिस कर्मचारी संगठन ने लगाया जागरुकता शिविर

पांवटा साहिब आईटीआई में सेवानिवृत्त पुलिस कर्मचारी संगठन ने लगाया जागरुकता शिविर

छात्र एवं छात्राओं को उनके अधिकारों के प्रति किया जागरूक…

जिला सिरमौर के पांवटा साहिब में आज सेवानिवृत्त पुलिस कर्मचारी कल्याण संगठन जिला सिरमौर की ओर से आईटीआई में छात्रों व स्टाफ़ के साथ नशे की खिलाफ व यातायात नियमों के बारे में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

क्या बोले संगठन अध्यक्ष एमआई खान…

एमआई खान ने सभी उपस्थित सभी सज्जनों को नशे एवं यातायात के बारे मे जागरुक करते हुए आज के युग मे नशे से बिगड़ते हुए हालातों पर रौशनी डालते हुए भिन्न भिन्न प्रकार के नशे की जानकारी देते हुए सभी प्रकार के नशीले पदार्थों के सेवन करने से शरीर एवं जीवन पर पड़ने वाले दुष्प्रभाव एवं इससे सम्बन्धित कानून से अवगत करवाते हुए बताया की बड़ी संख्या में आज का युवा वर्ग नशे की लत में पड़ गया है।

उन्होंने बताया की नशा एक बहुत भयानक बीमारी है जिसको व्यक्ति स्वयं ग्रहण करता है और नशे की लत पड़ने पर व्यक्ति अपना सब कुछ दाव पर लगाते हुए अपना जीवन बरबाद कर लेता है।

इसलिए नशे को नही अपनाते हुए इससे दूर रहने के बारे में टिप्स दिये,तथा हर प्रकार के नशीले पदार्थ को अपनी हिचक ओर डर को दूर करके पुलिस को पकड़वाने में सहयोग करें।

Plot for sale
Plot for sale

इसके अतिरिक्त यातायात नियमों एवं मोटर वाहन अधिनियम/कानून के बारे विस्तार पूर्वक बताते हुवे जानकारी दी गई। दो पहिया वाहन चालको को हेलमेट जरूर पहनेने के लिये प्रेरित किया ताकि कोई भी दुर्घटना होने से पहले ही आप खुद को बचा ले।

Kidzee 02
Kidzee 02

कार्यक्रम के अन्त में संगठन सदस्य हाकम सिंह ने पोक्सो एक्ट के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर संगठन अध्यक्ष एम आई खान हाकम सिंह हंस राज सतपाल,वीरेन्द्र भरवाल, सतीश कुमार के अतिरिक्त संस्थान का पूरा स्टाफ उपस्थित रहा।

शिविर के समापन के बाद आईटीआई के छात्र धीरज ने जानकारी देते हुए बताया कि इस शिविर के बाद उन्हें बहुत सारी संबंधित जानकारी प्राप्त हुई है।

Republic Day 01
Republic Day 01

जिससे वह काफी जागरूक हुए हैं,तथा अपने आसपास के लोगों और रिश्तेदारों को भी इसके प्रति जागरूक करेंगे तथा कॉलेज के प्रधानाचार्य से अपील की कि समय-समय पर ऐसे जागरूकता शिविर आयोजित करवाते रहें।
ताकि उन्हें अपने अधिकारों के प्रति संबंधित जानकारी समय-समय पर मिलती रहे।

वही कॉलेज की छात्रा इशिता ने जानकारी देते हुए बताया कि वह केवीएन हिमाचल की छात्रा है तथा सेवानिवृत्त पुलिस कल्याण संगठन द्वारा चलाए गए इस शिविर के बाद उन्हें महिलाओं एवं लड़कियों से संबंधित काफी ऐसी जानकारी मिली है। जिससे वह काफी प्रभावित हुई है तथा उम्मीद करते हैं कि आगे भी ऐसे ही जागरूकता शिविर आईटीआई में आयोजित किए जाएं।

आईटीआई के प्रधानाचार्य सुशील कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि सेवानिवृत्त पुलिस कल्याण संगठन द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम से आईटीआई के छात्रों को एक दिशा निर्देश मिली है जिसके द्वारा वे अपने भविष्य को एक नए मोड़ पर ला सकते हैं तथा अपने भविष्य को नया रूप दे सकते हैं। आशा करते हैं कि इस तरह के कार्यक्रम कर आईटीआई के छात्राओं को समय-समय पर जागरूक करते रहेंगे।

Written by Newsghat Desk

5 साल की मासूम नाबालिक के साथ दुष्कर्म करने वाले के खिलाफ मामला दर्ज, गिरफ्तार..

पांवटा साहिब में कारगिल विजय दिवस पर होगा नए शहीद स्मारक का होगा अनावरण….