in

पांवटा साहिब के गुरु गोबिंद सिंह जी राजकीय महाविद्यालय में 22 जून को सात दिवसीय एनएसएस शिविर हुआ समापन……

पांवटा साहिब के गुरु गोबिंद सिंह जी राजकीय महाविद्यालय में 22 जून को सात दिवसीय एनएसएस शिविर हुआ समापन……

पांवटा साहिब के गुरु गोविंद सिंह राजकीय महाविद्यालय में आयोजित सात दिवसीय एनएसएस शिविर के अंतर्गत विभिन्न गतिविधियां आयोजित हुई। जिसमें एनएसएस के स्वयंसेवकों ने बढ़ चढ़कर भाग लिया। जिसका आज विधिवत समापन किया गया।

गौर हो कि महाविद्यालय में समय-समय पर विभिन्न तरह की गतिविधियां आयोजित होती हैं। चाहे वे खेलकूद से जुड़ी हो, शिक्षा से जुड़ी हों या फिर सांस्कृतिक कार्यक्रम से जुड़ी हों।

BKD School
BKD School

महाविद्यालय के पूर्व प्रोफेसर देवेंद्र गुप्ता बतौर मुख्य अतिथि शिरकत की

इस अवसर पर कार्यक्रम ऑफिसर रीना चौहान व डॉ जयचंद ने शिविर की विस्तारपूर्वक जानकारी देते हुए बताया की स्वंयसेवकों ने यमुना घाट, यमुना पथ , मुख्य बाजार, कुंजा मतरालियों के स्लम एरियाज आदि जगह पर सफाई की, साथ ही लोगों को जागरूक भी किया। रामपुर घाट जाकर प्रवासी लोगो के साथ साफ सफाई, महिलाओं को मेंस्ट्रुअल हाइजीन और शिक्षा के बारे में विचार विमर्श किया।

गौरतलब हो कि सात दिवसीय राष्ट्रीय सेवा योजना विशेष शिविर में स्वंयसेवकों द्वारा शारीरिक गतिविधियों के साथ साथ विभिन्न गतिविधियों का आयोजन किया गया।

वहीं,पिछले दिन इकाई द्वारा गोद लिए गए गांव कुंजा मतरालिओं के पंचायत घर में डॉ नीना सबलोक व उनकी टीम, सन फार्मास्युटिकल्स पांवटा साहिब के सौजन्य से एक स्वास्थ्य शिविर का आयोजन भी किया गया। जिसमें स्वंयसेवकों व स्थानीय लोगो ने अपने निशुल्क स्वास्थ्य की जांच करवाई। स्वंयसेवक गोद लिए गए गांव कुंजा मतरालिओं , यमुना पथ के साथ साथ महाविद्यालय के मैदान, पानी के स्रोतों , बगीचों व परिसर की भी साफ सफाई भी की।

प्रोग्राम ऑफिसर प्रोफेसर रीना चौहान ने जानकारी देते हुए बताया कि सात दिवसीय शिविर के अंतर्गत स्वयंसेवकों ने बेहतरीन कार्य किया है। इसमें न केवल साफ-सफाई बल्कि अन्य गतिविधियां भी शामिल है। जिसके लिए विद्यार्थियों को पुरस्कृत भी किया गया। उन्होंने कहा कि शिविर के दौरान उन्हें महाविद्यालय प्रशासन, पांवटा प्रशासन, वार्ड मेंबर पुलिस प्रशासन आदि का भरपूर सहयोग मिला है। उन्होंने सभी का आभार व्यक्त किया।

वहीं प्रोग्राम ऑफिसर डॉक्टर जयचंद ने बताया कि एनएसएस प्रोग्राम ऑफिसर होने के नाते उन्हें बच्चों को और अधिक प्रोत्साहित करने का उनसे वार्तालाप करने का और उन्हे समझाने का अवसर मिला। उन्होंने कहा कि स्वयंसेवकों में नई ऊर्जा व आत्मविश्वास को बढ़ावा मिला है। उन्होंने समापन के अवसर पर विद्यार्थियों को अनुशासन तथा एकजुट होकर कार्य करने का संदेश दिया।

इस मौके महाविद्यालय के अधीक्षक नरेश बत्रा, प्रो. रीना चौहान, डॉ जयचंद विम्मी रानी, और एनएसएस स्वयंसेवक मौजूद रहे।

Written by Newsghat Desk

पांवटा साहिब में यमुना नदी के किनारे एक ने लगाया फंदा, शिलाई का रहने वाला था युवक

पूर्व मुख्यमंत्री स्व राजा वीरभद्र सिंह के जन्मदिवस पर अस्पताल में फल बांटे…