in , ,

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना: सोशल मीडिया पर लोन दिलाने के नाम पर ठगी! पुलिस ने कॉल सेंटर के 3 सदस्यों को किया गिरफ्तार, पढ़ें क्या है पूरा मामला

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना: सोशल मीडिया पर लोन दिलाने के नाम पर ठगी! पुलिस ने कॉल सेंटर के 3 सदस्यों को किया गिरफ्तार, पढ़ें क्या है पूरा मामला

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना: सोशल मीडिया पर लोन दिलाने के नाम पर ठगी! पुलिस ने कॉल सेंटर के 3 सदस्यों को किया गिरफ्तार, पढ़ें क्या है पूरा मामला
प्रधानमंत्री मुद्रा योजना: सोशल मीडिया पर लोन दिलाने के नाम पर ठगी! पुलिस ने कॉल सेंटर के 3 सदस्यों को किया गिरफ्तार, पढ़ें क्या है पूरा मामला

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना: सोशल मीडिया पर लोन दिलाने के नाम पर ठगी! पुलिस ने कॉल सेंटर के 3 सदस्यों को किया गिरफ्तार, पढ़ें क्या है पूरा मामला

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना: सोशल मीडिया पर मोबाइल नंबर प्राप्त करने के बाद, सेक्टर 63 में स्थापित कॉल सेंटर के माध्यम से लोगों को फसाया जा रहा था।

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना: सोशल मीडिया पर लोन दिलाने के नाम पर ठगी! पुलिस ने कॉल सेंटर के 3 सदस्यों को किया गिरफ्तार, पढ़ें क्या है पूरा मामला

Admission notice

ये आरोपी लोग प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, वित्त मंत्रालय, फाइनेंस लोन हब, और विभिन्न निजी बैंकों के नाम पर लोन देने का दावा करते और इसके बदले में फाइल चार्ज, ईसीएस चार्ज और जीएसटी के नाम पर पैसे लेते थे।

JPREC-June
JPREC-June

लोन तत्काल देने के वादे से लोगों को ठगने वाले इस गैंग को सेक्टर 63 पुलिस ने पकड़ लिया है। इस गैंग के तीन सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मामला नोएडा का है।

डीसीपी सेंट्रल नोएडा अनिल यादव और एडीसीपी राजीव दीक्षित ने यह जानकारी दी कि गिरफ्तार किए गए आरोपी में बुलंदशहर के दीपक कुमार, भदोही के विकास सिंह और गाजियाबाद के शाहरुख शामिल हैं।

ये तीनों वर्तमान में गाजियाबाद में रह रहे थे और पुलिस की जांच के दौरान यह भी पता चला है कि ये लोग अब तक 100 से अधिक लोगों को ठग चुके हैं।

Mehar Electrical
Mehar Electrical

देश दुनिया और वित्तीय जगत के ताजा समाचार जानने के लिए न्यूज़ घाट व्हाट्सएप समूह से जुड़े। नीचे दिए लिंक पर अभी क्लिक करें

इन्होंने फ़ोन करने के लिए फर्जी आईडी से सिम कार्ड भी प्राप्त किए थे। आरोपियों के पास से पुलिस ने 5 लाख 13 हजार रुपये नकद, एक लैपटॉप, छह मोबाइल फ़ोन, 32 फर्जी लोन अनुमोदन पत्र सहित अन्य सामग्री जब्त की है।

आरोपियों ने बताया कि वे ठगी की राशि को एक पहले से खुले बैंक खाते में डालते थे, जिसे उन्होंने 20 हजार रुपये में डेबिट कार्ड सहित खरीदा था।

ठगी की राशि से आरोपी ने अब तक फ्लैट, दुकान और वाहन खरीद लिए हैं। एसएचओ सेक्टर-63, अमित कुमार मान ने बताया कि इस गैंग का मुख्य आरोपी विकास सिंह है।

विकास फर्जी आईडी पर सिम कार्ड और फर्जी आईडी पर खुले बैंक खाते का उपयोग कर रहा था, इसलिए उसे शिकायत होने पर भी बचने में कामयाबी हासिल हो रही थी।

देश दुनिया और वित्तीय जगत के ताजा समाचार जानने के लिए न्यूज़ घाट व्हाट्सएप समूह से जुड़े। नीचे दिए लिंक पर अभी क्लिक करें

Written by newsghat

Himachal Pradesh News: जब अचानक अनियंत्रित हुआ ट्रक! सड़क के किनारे पलटने से चालक की मौत

HP News: हिमाचल के इस शहर की सफाई का जिम्मा अब एनजीओ और स्वयं सहायता समूहों के हाथों में! नगर निगम के कमिश्नर एचएस राणा ने बताया प्लान

HP News: हिमाचल के इस शहर की सफाई का जिम्मा अब एनजीओ और स्वयं सहायता समूहों के हाथों में! नगर निगम के कमिश्नर एचएस राणा ने बताया प्लान