in

बरसात के एक मार भी नहीं झेल पाई एनएच 707 की सुरक्षा दीवार, ताश के पत्तों की तरह ढही

बरसात के एक मार भी नहीं झेल पाई एनएच 707 की सुरक्षा दीवार, ताश के पत्तों की तरह ढही

पांवटा साहिब-शिलाई एनएच पर बनी दीवार पहली ही बरसात में ताश के पत्तों की तरह बिखर गई। जिस कारण गुणवत्ता पर कई सवालिया निशान खड़े हो रहे हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पांवटा साहिब -शिलाई- गुम्मा नैशनल हाइवे 707 पर 104 किलोमीटर के चार भागों में 1350 करोड़ रूपए की लागत से निर्माण कार्य चला हुआ है।

पांवटा साहिब के बद्रीपुर से सतौन तक 25 किलोमीटर का निर्माण कार्य एबीसीआई कंपनी कर रही है इन दिनों कच्ची ढांग से सतौन के बीच कंपनी सड़क के साथ दीवारों का निर्माण कार्य कर रहे हैं लेकिन सतौन के नजदीक आरडी नंबर 16/500 के आसपास बनी दीवारें पहली ही बरसात में ताश के पत्तों की तरह बिखर रही है।

जिससे निर्माण कार्य में गुणवत्ता पर कई सवालिया निशान खड़े हो रहे हैं। इससे पहले भी कई बार क्षेत्र के ग्रामीण निर्माण कार्य में गुणवत्ता को लेकर सवाल उठा चुके हैं।

Plot for sale
Plot for sale

हालांकि केंद्र सरकार ने इस नेशनल हाईवे को ग्रीन कोरिडोर प्रोजेक्ट में डाला है। जिसको एनएचएआई अथॉरिटी खुद देख रही है लेकिन उसके बावजूद भी लापरवाही के मामले सामने आ रहे हैं।

Kidzee 02
Kidzee 02

उधर एनएचएआई के सहायक अभियंता सूर्य प्रताप सिंह ने बताया की शिकायत मिली है जिसकी जांच की जायेगी।

Written by Newsghat Desk

पांवटा साहिब में सोशल मीडिया के माध्यम से ही रही पैसों की ठगी…

सब जानते हैं किसके इशारे पर काम कर रहे मंडल अध्यक्ष, पत्रकारवार्ता में बोले पूर्व भाजपा नेता मनीष तोमर