in

बाल अधिकारों के बारे जागरूकता आवश्यक, बोले एसडीएम गुरजीत चीमा, पांवटा साहिब में खण्ड स्तरीय शिविर मे बताए बाल अधिकार

बाल अधिकारों के बारे जागरूकता आवश्यक, बोले एसडीएम गुरजीत चीमा, पांवटा साहिब में खण्ड स्तरीय शिविर मे बताए बाल अधिकार

जिला बाल संरक्षण इकाई सिरमौर द्वारा खण्ड विकास कार्यालय पांवटा साहिब में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।

कार्यशाला का मुख्य उद्देश्य हितधारकों को बाल संरक्षण से जुड़े सभी कानूनों व योजनाओं की जानकारी प्रदान करना था। शिविर में बतौर मुख्य अथिति एसडीएम पांवटा साहिब गुंजित सिंह चीमा ने भाग लिया।

उन्होंने सभी प्रतिभागियों को निर्देश दिये कि वे शिविर में प्राप्त जानकारी को आम जनमानस तक पहुंचाने का कार्य पूरी लगन और मेहनत के साथ करें ताकि देश का भविष्य बच्चों के जीवन को सुखमय बनाया जा सके।

जिला बाल सरंक्षण अधिकारी रमा रेटका ने जिला बाल सरंक्षण इकाई का परिचय देते हुए कार्यालय की कार्यकारिणी के बारे मे विस्तार से बताया। उन्होंने जिला बाल संरक्षण इकाई के द्वारा चलाई जा रही योजनाएं फोस्टर केयर तथा स्पॉन्सरशिप बारे भी जानकारी दी।

Holi-2
Holi-2

इसके पश्चात प्रतिभागियों को गुड टच बैड टच पर चाईल्डलाइन इंडिया फाउंडेशन द्वारा निर्मित एनीमेशन फिल्म कोमल प्रदर्शित कर प्रतिभागियों को जागरूक किया गया।

संरक्षण अधिकारी सोहन पुण्डीर ने बच्चों को विभाग द्वारा चलाई जा रही योजनाओ के बारे तथा बच्चों के अधिकारों बारे विस्तृत जानकारी प्रदान की।

लीगल कम प्रोबेशन ऑफिसर मोहम्मद शमीम ने किशोर न्याय अधिनियम (JJ Act)-2015, पोक्सो (संशोधित) एक्ट 2019, गुड-टच, बैड-टच तथा पूर्व गर्भाधान और प्रसव पूर्व निदान तकनीक (लिंग चयन का प्रतिषेध) अधिनियम, 1994 के बारे मे विस्तार से जानकारी दी।

शिक्षा विभाग से सुरेखा रानी ने निशुल्क एवं अनिवार्य शिक्षा अधिनियम-2009 के बारे मे जानकारी दी।

बाल विकास परियोजना अधिकारी पांवटा साहिब गीता सिंगटा ने बाल विवाह निषेध अधिनियम के बारे मे प्रतिभागियों को जागरूक किया।

पुलिस विभाग से आए सहायक सब इंस्पेक्टर कृष्ण भंडारी ने प्रतिभागियों को साइबर क्राइम तथा नशे के दुष्प्रभाव के बारे मे जानकारी दी। श्रम एवं रोजगार विभाग से आए निरीक्षक भूपेश ने बाल श्रम विरोधी कानून के बारे मे जानकारी प्रदान की।

चाइल्ड हेल्प लाइन से आए सदस्य राजेंद्र कुमार ने चाइल्ड लाइन 1098 की विस्तृत जानकारी प्रदान की। कार्यशाला का समापन जिला कार्यक्रम अधिकारी सुनील शर्मा के द्वारा किया गया।

उन्होंने सभी प्रतिभागियों से अनुरोध किया कि विभिन्न विभागों द्वारा दी गयी जानकारी को अपने तक न रख कर जन-जन तक पहुंचाया जाए ताकि वंचित वर्ग को सरकार की योजनाओं के साथ जोड़कर उन्हें लाभान्वित किया जा सके।

इस जागरूकता शिविर में मुख्य अतिथि उप मंडलाधिकारी गुंजित सिंह चीमा, विकास खंड अधिकारी पांवटा साहिब प्रताप चौहान, जिला कार्यक्रम अधिकारी सुनील शर्मा, बाल विकास परियोजना अधिकारी पांवटा साहिब रूपेश तोमर व गीता सिंगटा, जिला बाल सरंक्षण अधिकारी रमा रेटका, पुलिस विभाग से सहायक सब इंस्पेक्टर कृष्ण भंडारी, रोजगार एवं श्रम विभाग से निरीक्षक भूपेश, सरंक्षण अधिकारी सोहन पुण्डीर, संरक्षण अधिकारी गैर संस्थागत संतोष कुमारी, लीगल कम प्रोबेशन अधिकारी मोहम्मद शमीम, समाजिक कार्यकर्ता कुलदीप कुमार, आउटरीच वर्कर आईशा, गुलाब सिंह, जिला बाल कल्याण समिति से अमित कुमार, शिक्षा विभाग से सुरेखा रानी तथा रमेश कुमार, पांवटा परियोजना के सभी पर्यवेक्षक व आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं तथा पांवटा खंड की पंचायत के प्रधानों ने भाग लिया।

Written by Newsghat Desk

सिरमौर : 9वीं कक्षा में पढ़ने वाली नाबालिग से दुष्कर्म

पांवटा साहिब के वाई प्वाइंट से चोरी बाईक शातिरों से बरामद, सीसीटीवी में दिखे थे संदिग्ध