in

बाहरी लोग कर रहे हाटी एकता को तोड़ने का प्रयास, कुछ राजनेता निजी लाभ के लिए कर रहे उन्हें फंडिंग

बाहरी लोग कर रहे हाटी एकता को तोड़ने का प्रयास, कुछ राजनेता निजी लाभ के लिए कर रहे उन्हें फंडिंग

 

हाटी एकता को कोई नहीं तोड़ सकता, हाटी एक थे एक है और एक रहेंगे यह बाद हाटी समिति पांवटा साहिब इकाई के अध्यक्ष ओमप्रकाश चौहान ने लोक निर्माण विश्राम गृह में आयोजित पत्रकार वार्ता में कहीं।

उन्होंने कहा कि हाटी मुद्दे का हल देख कुछ लोग समाज को गुमराह कर बांटने का प्रयास कर रहे हैं। ओमप्रकाश चौहान ने कहा कि कुछ राजनीतिक नेता एक समुदाय के लोगों को पर्दे के पीछे से पैसे देकर गुमराह कर करने का प्रयास कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि हाटी मुद्दे में रोड़े अटकाने के लिए हाईकोर्ट तक पहुंच गए हैं। उन्होंने कहा कि जब मुद्दा हाईकोर्ट तक पहुंच गया है तो धरने प्रदर्शन करने की क्या आवश्यकता है इसका मतलब है की उन्हें अदालत पर भी भरोसा नहीं है।

Holi-2
Holi-2

पांवटा साहिब हाटी यूनिट के महासचिव गुमान वर्मा ने बताया की में भी दलित समाज से संबंध रखता हूं तथा गिरिपार क्षेत्र जनजातीय घोषित होने से दलित समाज को कोई नुकसान नहीं है उन्होंने कहा की अगर किसी व्यक्ति को इस पर आशंका है तो वह केंद्रीय हाटी समिति से संपर्क कर अपनी बात रख सकता है।

पांवटा साहिब के लोक निर्माण विश्राम गृह में आयोजित पत्रकार वार्ता में केंद्रीय हाटी समिति के मुख्य सलाहकार रणसिंह चौहान ने बताया कि एक समुदाय के कुछ लोग बाहरी लोगों के बहकावे में आ रहे हैं और कुछ नेता अपने राजनीतिक जमीन खिसकते देख पर्दे के पीछे उन्हें गुमराह करने का काम कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि 55 सालों से हाटी समुदाय के लोग जनजातीय मुद्दे को उठाते आ रहे हैं लेकिन जिन्होंने सबसे अधिक शिलाई विधानसभा क्षेत्र में राज किया है।

उन्होंने पहले इस पर कोई रूचि नहीं रखी तथा शिलाई महाखुमली में हाटी के लिए खून बहाने तक की बातें कर रहे थे जब हाटी मुद्दा होने के कगार पर है उसके बाद चुप्पी साध ली है तथा हाटी समिति को बदनाम करने का काम कर रहे हैं।

व्हाट्सएप पर न्यूज़ घाट समाचार समूह से जुड़ने के लिए इस लिंक को क्लिक करें।

रणसिंह चौहान ने कहा कि जो पार्टी व नेता हाटी मुद्दे पर काम करेगा हम लोग उसका नाम भी लेंगे और उनके लिए काम भी करेंगे।

उन्होंने कहा कि कुछ लोग हाटी मुद्दे के खिलाफ हाईकोर्ट में गए हैं व उन्होंने हाईकोर्ट में गिरिपार क्षेत्र को बदनाम करने के लिए गलत तथ्य दिए हैं।

व्हाट्सएप पर न्यूज़ घाट समाचार समूह से जुड़ने के लिए इस लिंक को क्लिक करें।

जिसका हमारे पास सबुत है साथ ही कहा कि जो वकील हाईकोर्ट में एक समुदाय की तरफ से पैरवी कर रहे हैं उन्होंने पहले हाटी मुद्दे पर जिला परिषद का चुनाव भी लड़ा था और आज हाटी मुद्दे के खिलाफ हाईकोर्ट पैरवी कर रहे हैं।

इस मौके पर ओमप्रकाश चौहान, नेत्र सिंह तोमर, खजान सिंह नेगी, रणसिंह चौहान, गुमान वर्मा, राजेंद्र नेगी, डीआर चौहान, दलीप पुण्डरी आदि मौजूद थे।

व्हाट्सएप पर न्यूज़ घाट समाचार समूह से जुड़ने के लिए इस लिंक को क्लिक करें।

Written by Newsghat Desk

Motivate Everytime: इन जादुई नियमों का करेंगे पालन तो कभी नही होंगे Demotivate, सफलता चूमेंगी आपके कदम

सक्सेस मंत्रः सफलता भागकर आपको गले लगाएगी, जीवन में अपनाएं बस ये पांच चमत्कारिक मंत्र

सक्सेस मंत्रः सफलता भागकर आपको गले लगाएगी, जीवन में अपनाएं बस ये पांच चमत्कारिक मंत्र