in

शरीर के ये 5 संकेत बताते हैं कि आप किसी गंभीर बीमारी की चपेट में आने वाले हैं…

शरीर के ये 5 संकेत बताते हैं कि आप किसी गंभीर बीमारी की चपेट में आने वाले हैं…

एक्सरसाइज से कर सकते हैं इनसे बचाव..

शरीर में आपको ये 5 लक्षण नजर आएं तो समझ जाइए क‍ि आपको एक्‍सरसाइज को रूटीन में शाम‍िल करने की सख्‍त जरूरत है।

इस तरह करे लक्षणों की पहचान

BKD School
BKD School

एक्‍सरसाइज करने से बॉडी फ‍िट रहती है और आपके शरीर कई गंभीर रोग जैसे डायब‍िटीज, थायराइड, बीपी, हार्ट ड‍िसीज आद‍ि से बच जाता है।

लेक‍िन अगर आप कसरत को अपने रूटीन में शाम‍िल नहीं करेंगे तो आपका शरीर और स्‍क‍िन मुरझा जाएगी और आपको बीमार‍ियां होने लगेंगी। एक्‍सरसाइज रूटीन फॉलो करने से माइंड हेल्‍दी रहता है और बॉडी टोन्‍ड होती है।

1. ब्‍लड प्रेशर ज्‍यादा रहना (High blood pressure)

अगर आपका ब्‍लड प्रेशर ज्‍यादातर बढ़ा हुआ आ रहा है और आप उसे कंट्रोल नहीं कर पा रहे हैं तो संभल जाएं ये एक गंभीर लक्षण है। ब्‍लड प्रेशर को कंट्रोल करने का सबसे अच्‍छा तरीका है हार्ट हेल्‍थ को मजबूत करना ज‍िसके ल‍िए आपको रोजाना कसरत करनी चाह‍िए। कसरत करने से बीपी कम होगा और आप पहले से ज्‍यादा एक्‍ट‍िव हो जाएंगे और शरीर में एनर्जी महसूस कर पाएंगे।

2. स्‍क‍िन में बदलाव (Changes in skin)

अगर आप रोजाना एक्‍सरसाइज के जर‍िए पसीना नहीं बहाते हैं तो हो सकता है आपकी स्‍क‍िन मुरझाई हुई नजर आए और एज‍िंग साइंस जैसे झुर्रियां भी नजर आएं और एक्‍सरसाइज करने से ब्‍लड फ्लो बढ़ता है ज‍िससे स्‍क‍िन में एज‍िंग साइंस कम होते हैं।

ब्‍लड फ्लो बढ़ने से स्‍क‍िन को जरूरी न्‍यूट्र‍िएंट्स और पर्याप्‍त मात्रा में ऑक्‍सीजन म‍िलती है और चेहरे पर ग्‍लो आता है। जैसे-जैसे आप एक्‍सरसाइज को अपने रूटीन में एड करेंगे आपको अपने स्‍क‍िन में भी पॉज‍िट‍िव चेंज देखने को म‍िलेगा।

3. हर समय तनाव महसूस करना (Always feeling stressed)

अगर आपको हर समय तनाव महसूस होता है तो ये शरीर का एक लक्षण है जो इस तरफ संकेत करता है क‍ि आपको एक्‍सरसाइज को अपने रूटीन में शाम‍िल करना चाह‍िए। एक्‍सपर्ट्स के मुताब‍िक जब द‍िमाग में तनाव होता है तो कई शारीर‍िक लक्षण भी नजर आते हैं जैसे गर्दन में दर्द होना, स‍िर में दर्द होना, चेस्‍ट में भारीपन महसूस होना आद‍ि। ये लक्षण नजर आने पर आपको एक्‍सरसाइज को अपने रूटीन में शाम‍िल करना चाह‍िए। आप रोजाना मेड‍िटेशन, योगा, वॉक‍िंग और कॉर्ड‍ियो को अपने रूटीन में शाम‍िल करके आप तनाव के लक्षण से बच सकते हैं।

4. लोअर बैक में दर्द होना (Pain in lower back)

अगर लेटकर या बैठते समय आपको लोअर बैक में दर्द होता है तो भी आपको एक्‍सरसाइज शुरू कर देनी चाहि‍ए। एक्‍सरसाइज न करने के कारण कमर या पीठ में अकड़न आ जाती है और आपको दर्द महसूस होता है। आप जब कसरत शुरू करेंगे तो ये दर्द खुद ही दूर हो जाएगा, ध्‍यान न देने पर समस्‍या बढ़ सकती है और आपको स्‍पाइन की समस्‍या भी हो सकती है। एक्‍सरसाइज करने से लोअर बैक की मसल्‍स को मजबूती म‍िलती है ज‍िससे चलते, बैठते या खड़े रहते समय आपकी पीठ व कमर को सपोर्ट मिलता है।

5. डाइजेशन की समस्‍या (Digestion issues)

अगर आपको डाइजेशन की समस्‍या हो रही है और रोज ठीक से फ्रैश नहीं हो पा रहे हैं तो इसका मतलब है आप आलस्‍य का श‍िकार हैं और शरीर को जरा सा भी नहीं ह‍िलाते हैं। इस समस्‍या से बचने के ल‍िए आपको रोजाना एक्‍सरसाइज करनी चाह‍िए। आप ब्र‍िस्‍क वॉक या जॉग‍िंग से शुरूआत कर सकते हैं। पेट की समस्‍या से बचने के ल‍िए कपालभांत‍ि प्राणायम भी फायदेमंद माना जाता है। एक्‍सरसाइज करने से मसल्‍स टोन्‍ड होती हैं और कब्‍ज की समस्‍या नहीं होती है।

एक्‍सपर्ट की सलाह के मुताब‍िक चुन सकते अगर आप घर पर कसरत कर रहे हैं तो रूटीन में जॉग‍िंग, वॉक, योग, मेड‍िटेशन आद‍ि को शाम‍िल जरूर करें।

हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newsghat पर और व्हाट्सएप ग्रुप में ज्वाइन होने के लिए @newsghat पर क्लिक करें।

 

Written by Newsghat Desk

जानिए : क्या है लोहड़ी का इतिहास क्यों पूरे विश्व में यह त्योहार क्यो मनाया जाता है

Mutual Fund SIP में करते हैं निवेश ? तो तुरंत करें ये काम