in

शर्मनाक : जब बुजुर्ग महिला का शव डंडे से बांध सड़क तक पहुंचाना पड़ा..

शर्मनाक : जब बुजुर्ग महिला का शव डंडे से बांध सड़क तक पहुंचाना पड़ा..

कोरोना संक्रमित भी नहीं थी ये बुजुर्ग महिला…

खेल प्रशिक्षक गोपाल ठाकुर ने अपने दो खिलाड़ियों के साथ मदद को सामने आए

न्यूज़ घाट/मंडी

हिमाचल प्रदेश के मंडी जिला से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसे देख कर किसी का भी मन पसीज जाए।

Admission notice

यहां एक बुजुर्ग महिला को कंधा देने के लिए जब आस पास, पड़ोस व गांव-खेड़े के लोग सामने नहीं आए तो एथलेटिक्स सेंटर के चलाने वाले खेल प्रशिक्षक गोपाल ठाकुर सामने आए।

JPREC-June
JPREC-June
Sniffers 04
Sniffers 04

बुजुर्ग महिला के शव को डंडे से बांध कर एक किलोमीटर दूर सड़क तक पहुंचाया। इस बुजुर्ग महिला की मौत कोरोना से नहीं हुई थी।

हिमाचल में कोरोना कर्फ्यू बढ़ाए जाने व शादियों पर क्या बोले सीएम जयराम ठाकुर

अब उचित मूल्य की दुकानों को खुलने-बंद करने की समयावधि की निर्धारित….

धर्मपुर के संधोल की बुजुर्ग महिला बेटी के घर गवाल गांव आई हुई थी। इसी बीच बेटी कोरोना संक्रमित हो गई और शनिवार को बुजुर्ग महिला की मौत हो गई।

बुजुर्ग महिला की मौत पर गांव का कोई भी व्यक्ति आगे नहीं आया जबकि वह महिला संक्रमित नहीं थी।

पास पड़ोस : बढ़ रहे हैं ब्लैक फंगस के केस, अब व्हाइट फंगस का भी खतरा..

प्रशासन को इस बात का पता चला तो उन्होंने गोपाल ठाकुर से संपर्क किया उन्होंने अपने सेंटर के दो खिलाड़ियों सुमित व विशाल के साथ गवाल गांव पहुंचकर शव को डंडों से सहारे बांधकर सड़क तक पहुंचाया। वहां पर महिला के परिजन उसे अपने गांव अंतिम संस्कार के लिए ले गए।

अब पांवटा साहिब में युवक ने लगाया फंदा, मौत…

हिमाचल में ब्लैक फंगस के दूसरे मामले की पुष्टि…

हैरानी इस बात की है कि खेल प्रशिक्षक गोपाल ठाकुर व उनके दो साथी 40 किलोमीटर दूर गवाल गांव पहुंच गए लेकिन उसी गांव के लोग शव को हाथ नहीं लग रहे थे, जबकि महिला संक्रमित नहीं थी।

हिमाचल सरकार ने भी ब्लैक फंगस महामारी घोषित किया….

ब्लैक फंगस क्या है..? ब्लैक फंगस के लक्षण व उपचार क्या हैं ?

Written by newsghat

पास पड़ोस : बढ़ रहे हैं ब्लैक फंगस के केस, अब व्हाइट फंगस का भी खतरा..

पास पड़ोस : बढ़ रहे हैं ब्लैक फंगस के केस, अब व्हाइट फंगस का भी खतरा..

बाहरी राज्यों के अभ्यर्थियों को प्रदेश में नौकरी देने की तैयारी….

बाहरी राज्यों के अभ्यर्थियों को प्रदेश में नौकरी देने की तैयारी….