in

शामलात भूमि पर दलित वर्ग की हिस्सेदारी के लिए दलित शोषण मुक्ति मंच करेगा आंदोलन

शामलात भूमि पर दलित वर्ग की हिस्सेदारी के लिए दलित शोषण मुक्ति मंच करेगा आंदोलन

 

दलित शोषण मुक्ति मंच जिला सिरमौर का एक अधिवेशन आज रविवार को ददाहू में आयोजित किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता मंच के जिला संयोजक आशीष कुमार ने की। इस अधिवेशन में 13 पंचायतों के लोगों ने हिस्से लिया।

BKD School
BKD School

अधिवेशन में आज कल प्रदेश में चल रहे दलित वर्ग के अधिकारों को छीनने की कोशिश कर रहे कुछ लोगों द्वारा सोशल मीडिया पर किए जा रहे दुष्प्रचार पर गंभीर रूप से चर्चा की गई।

जिला संयोजक आशीष कुमार ने कहा कि आज प्रदेश में दलित विरोधी माहौल बनाया जा रहा है, जिससे जिला सिरमौर भी अछूता नहीं रहा है।

उन्होंने बताया कि आज दलितों के मुद्दों पर अधिवेशन में विस्तार से गंभीर रूप से चर्चा की गई है, जिसमें शामलात भूमि का मुद्दा भी शामिल है। उन्होंने कहा कि शामलात भूमि में दलित वर्ग की हिस्सदारी नहीं है।

जबकि यह शामलात भूमि बड़े-बड़े लोग जोकि पहले ही भूस्वामी थे, उन्हें ही वापिस हुई है। उन्होंने चेताया कि यदि इस मामले में सरकार ने जल्द उचित कदम नहीं उठाए, तो शामलात भूमि पर दलित वर्ग की हिस्सेदारी के लिए मंच प्रदेश सहित जिला में आंदोलन करने को मजबूर होगा।

उन्होंने आरोप लगाया कि एससीएसटी कम्पोनेंट प्लान का भी दुरपयोग किया जा रहा है। आशीष कुमार ने आरोप लगाया कि प्रदेश में सवर्ण आयोग के नाम पर दलितों के अधिकारों पर हमले हो रहे है और उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है।

सोशल मीडिया पर भी इसको लेकर दुष्प्रचार किया जा रहा है। उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि यदि सरकार में प्रदेश में सवर्ण आयोग का गठन कर दलित समुदाय के अधिकारों को छीनने की कोशिश की गई, तो प्रदेश सहित जिला सिरमौर में भी आने वाले समय में महाआंदोलन किया जाएगा।

इस आंदोलन के तहत यदि सरकार व संबंधित विधायको का चुनाव में बहिष्कार किया जाएगा।

इस दौरान अधिवेशन में 26 सदस्यों की कमेटी भी चुनी गई है, जिसमें इंदरजीत संयोजक, प्रेम पाल सह संयोजक, बलबीर सिंह सह संयोजक, सुखदेव, सीताराम, सुरजीत, अरविंदर, देविंदर, धनीराम, रमन, अनुज सैनी, मोहन सिंह चौहान, रूपेंद्र, प्रकाश, इंदर सिंह, रणदीप आदि को शामिल किया गया है।

Written by Newsghat Desk

PM Kisan योजना के कार्ड धारक ऐसे ले सकते है लोन, ऐसे करें आवेदन…

गिरिपार मे सदियों से मनाया जाने वाला माघी त्यौहार कल..