Paonta Cong
in

शिलाई के इन इलाकों में अब 10 परिवारों ने छोड़ी कांग्रेस, बलदेव तोमर के नेतृत्व में जताया विश्वास

शिलाई के इन इलाकों में अब 10 परिवारों ने छोड़ी कांग्रेस, बलदेव तोमर के नेतृत्व में जताया विश्वास

कांटी मशवा और कोड़गा पंचायतों ने लगा कांग्रेस को करारा झटका

JPERC
JPERC

शिलाई विधानसभा क्षेत्र के कुराली व पांशी बेल्ट में भाजपा प्रत्याशी बलदेव तोमर ने जनसंपर्क अभियान चलाया। इस दौरान 10 परिवारों ने कांग्रेस पार्टी छोड़कर भाजपा का दामन थामा है।

Admission notice

शिलाई विधानसभा क्षेत्र के कांटी मशवा, कोड़गा व सखौली पंचायत रूहाना में आयोजित चुनावी कार्यक्रम में भाजपा प्रत्याशी बलदेव तोमर ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि आज से पहले शिलाई क्षेत्र को पिछड़े क्षेत्र से जाना जाता था लेकिन अब पुरे प्रदेश में शिलाई विधानसभा क्षेत्र की विकसित क्षेत्र के नाम से चर्चा की जाती है।

उन्होंने कहा कि शिलाई विधानसभा क्षेत्र में एक ही परिवार ने 60 साल तक शिलाई विधानसभा क्षेत्र में राज किया। लेकिन उसके बावजूद भी यह क्षेत्र शिलाई विधानसभा क्षेत्र पिछड़ा रखा।

बलदेव तोमर ने कहा कि भाजपा सरकार ने 10 पंचायतों का केंद्र बिंदु सतौन में डिग्री कॉलेज, आईटीआई व उप तहसील कार्यालय खोलकर दिया है। जिस कारण क्षेत्र के लोगों को घरद्धार ही सुविधा मिल रही है।

इसके इलावा सखौली पंचायत में दो बारवीं के स्कूल खोलकर दिए तथा सखौली, कांटी मशवा, चांदनी में पटवार सर्कल खोले है और कोड़गा सखौली को परिवहन निगम की बस लगाकर दी है।

उन्होंने कहा कि जयराम ठाकुर के प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने के बाद हमने हारने के बाद पांच साल में वो करके दिखाया जिसकी क्षेत्र के लोगों ने कभी कल्पना भी नहीं की थी।

बलदेव तोमर ने कहा कि उत्तराखंड के जौनसार बावर जनजातीय घोषित हुआ लेकिन हमारा क्षेत्र को उस समय यहां के नेताओं के विफलता के कारण पीछे रह गया और शिलाई विधानसभा क्षेत्र की जनता को 55 साल तक वोटबैंक के लिए इस्तेमाल किया गया।

लेकिन प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने गिरिपार क्षेत्र की जनता की पीढ़ा को समझा और केंद्र सरकार के समक्ष हाटी मुद्दे को गंभीरता से रखा।

जिसके बाद देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह ने हमारी 55 साल पुरानी मांग को एक ही झटके में खत्म कर हाटी समुदाय को जनजातीय घोषित करके दिखाया।

लेकिन उससे पहले कांग्रेसी नेता बड़ी बड़ी बाते करते थे लेकिन जब हाटी मुद्दे का हल हुआ तो इसके बाद क्षेत्र के दलित समुदाय के लोगों को भड़काने का काम किया। लेकिन केंद्र सरकार ने दलित समुदाय की मांग को पुरी कर एसटी के दायरे से बाहर रखा गया है।

बलदेव तोमर ने कहा कि हमने शिलाई की जनता की हर मांग को पुरा करने का प्रयास किया और अब इस कर्च को चुकाने वक्त आ गया है। शिलाई से भाजपा के पक्ष में मतदान कर प्रदेश में बनने वाली भाजपा सरकार में अपना सहयोग करें।

कांटी मशवा, कोड़गा पंचायत के 10 परिवारों ने कांग्रेस पार्टी छोड़कर भाजपा का दामन थामा है…

शिलाई विधानसभा क्षेत्र के कांटी मशवा, कोड़गा, सखौली पंचायत में बलदेव तोमर ने चुनावी जनसभा की गई। कार्यक्रम के दौरान कांग्रेस के गढ़ में भाजपा ने सेंधमारी कर 10 परिवारों ने कांग्रेस पार्टी छोड़कर भाजपा का दामन थामा है। बलदेव तोमर ने कार्यकर्ताओं का भाजपा परिवार में शामिल होने पर स्वागत किया।

इस मौके पर जिला परिषद सदस्य मामराज शर्मा, पंचायत प्रधान काहन सिंह कंवर, बीडीसी उपाध्यक्ष सुनील ठाकुर, मित्र सिंह कंवर, लायक राम शास्त्री, रघुवीर सिंह, बलवीर सिंह, कोड़गा पंचायत प्रधान लीला देवी, बीडीसी सदस्य प्रवेश शर्मा, रणवीर कपूर, सुनील कपूर, सुरेश कपूर, गौपाल ठाकुर, अमर सिंह, गीता राम शर्मा आदि मौजूद थे।

Written by Newsghat Desk

पांवटा साहिब के इन इलाकों में आजाद प्रत्याशी सुनील चौधरी को मिला समर्थन

भाजपा ने किया हिमाचल का विकास, कांग्रेस विरोध तक सीमित : अनुराग ठाकुर