Paonta Cong
in

सरकार बेचने वाली है शत्रु संपत्ति जल्द सुनिश्चित होगी कार्रवाई

सरकार बेचने वाली है शत्रु संपत्ति जल्द सुनिश्चित होगी कार्रवाई

केंद्र ने हाई लेवल कमेटी का किया गठन

JPERC
JPERC

यह खबर अन्य खबरों से थोड़ा हटकर है जहां केंद्र सरकार ने शत्रु संपत्ति भेजने का निर्णय ले लिया है अब आपके मन में यह सवाल उठ रहा होगा कि शत्रु संपत्ति क्या है ?

Admission notice

तो आपको बता दें कि यह उन लोगों की संपत्ति है उन्होंने भारत को छोड़कर पाकिस्तान व चीन की नागरिकता ले ली है।

केंद्र ने हाई लेवल कमेटी का किया गठन

आपको बता दें कि गृह मंत्रालय की एक रिपोर्ट के मुताबिक यह कमेटी 12600 से ज्यादा अचल संपत्तियों को निपटान करेगी जिससे सरकार को एक लाख करोड़ रुपए तक मिल सकता है।

बता दें रिपोर्ट के मुताबिक कमेटी का अध्यक्ष एक एडिशनल सेक्रेटरी रैंक का अधिकारी होगा तथा 1 मेंबर सेक्रेट्री के साथ पांच अन्य विभागों के सदस्य होंगे उत्तर प्रदेश में शत्रु संपत्ति की संख्या 6255 के करीब है जो कि सबसे अधिक है।

1962 के युद्ध के बाद छोड़ी गई संपत्ति घेरे में

आपको बता दें कि न्यूज़ एजेंसी पीटीआई के मुताबिक पाकिस्तान की नागरिकता लेने वालों की 12485 संपत्ति चीन की नागरिकता लेने वालों की 126 संपत्ति है।

जो कि उत्तर प्रदेश में यह सबसे ज्यादा तकरीबन 6255 दुश्मन संपत्ति है इसके बाद पश्चिम बंगाल में 4088 दिल्ली में 658 महाराष्ट्र में 207 गुजरात में 157 गोवा में 295 तेलंगाना में 158 त्रिपुरा में 105 बिहार में 94 दुश्मन संपत्तियां हैं। सरकारी संपत्ति को बेचेगी तो निसंदेह है उसे अच्छा राजस्व प्राप्त होगा।

Written by Newsghat Desk

अब शनिवार को पांवटा साहिब और शिलाई के इन इलाकों मे रहेगा पावर कट

बिना ड्राइवर के चलेगी यह ट्रेन, यात्रियों में है उत्साह…