Paonta Cong
in

सर्वश्रेष्ठ डॉक्युमेंटरी से सम्मानित हुई ‘हाटी वी इग्ज़िस्ट’

सर्वश्रेष्ठ डॉक्युमेंटरी से सम्मानित हुई ‘हाटी वी इग्ज़िस्ट’

शिमला में सीएम जयराम ठाकुर ने किया सम्मानित

JPERC
JPERC

हाटी समुदाय पर आधारित इस फिल्म को कल ही मुंबई के यथा कथा फिल्म समारोह में दिखाया गया और दिसंबर में यह फिल्म चाइना के गंगजोंह शहर में दिखाइ जाएगी।

Admission notice

मुख्यमंत्री द्वारा शिमला में सर्वश्रेष्ट डॉक्युमेंटरी से सम्मानित हुई ‘हाटी वी इग्ज़िस्ट’ फ़िल्म

तीन दिन तक चले सातवें इंटर्नैशनल फ़िल्म फ़ेस्टिवल ओफ़ शिमला का समापन समारोह विश्व विख्यात गेयटी थियेटर में हुआ जिसमें मुख्य अतिथि हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के कर कमलों द्वारा विभिन्न वर्गों में सर्वश्रेष्ठ फिल्मों को पुरस्कृत किया गया।

सिरमौर के हाटी कबायली समुदाय की संस्कृति और अधिकारों के संघर्ष पर आधारित ‘हाटी वी इग्ज़िस्ट’ फिल्म को सर्वश्रेष्ट डाक्यूमेंटरी फिल्म से सम्मानित किया गया।

इस फिल्म के निर्माता निर्देशक विवेक तिवारी ने सम्मान ग्रहण किया और साथ ही मुख्यमंत्री से इस समुदाय की सदियों से चली आ रही मांग पर गौ़र करने की प्रार्थना की और इस फिल्म को देखने का आग्रह भी किया।

26 तारीख़ को दोपहर गेयटी थियेटर में दिखायी गयी इस फ़िल्म में लगभग साढ़े तीन सौ लोग मौजूद रहे और फ़िल्म देखने के बाद शिमला के प्रसिद्द रिज पर सिरमौर से आए दर्शकों ने ख़ुशी में नाटी प्रस्तुत की और सभी का मन मोह लिया।

मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव शिमला के पुरस्कार समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार भाषा, कला और संस्कृति के संरक्षण पर लगातार जोर दे रही है और फिल्म इसे संरक्षित करने में सर्वोत्तम भूमिका निभाती है।

उन्होंने कहा कि राज्य में फिल्मों की शूटिंग को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार ने भी अपनी फिल्म नीति बनाई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने राज्य में फिल्म सिटी की स्थापना के लिए 100 करोड़ रुपये के एमओयू पर हस्ताक्षर किए हैं ताकि फिल्म निर्माताओं को अपनी फिल्मों की शूटिंग के लिए अनुकूल माहौल मिल सके।

उन्होंने कहा कि फिल्म सिटी की स्थापना से देश और दुनिया के फिल्म निर्माता राज्य में ही पूरी फिल्म की शूटिंग और निर्माण कर सकेंगे। जय राम ठाकुर ने कहा कि भारत और विदेशों के कई फिल्म निर्माता हिमाचल प्रदेश में फिल्मों की शूटिंग के लिए यहां की खूबसूरत जगहों और सुंदरताए फिल्मों के कारण आते हैं।

उन्होंने कहा कि ऐसे फिल्म महोत्सव के माध्यम से फिल्म उद्योग को बढ़ावा मिलेगा। यह समारोह इंटर्नैशनल फ़िल्म फ़ेस्टिवल ओफ़ शिमला का सातवाँ संस्करण था जिसे पुष्प राज ठाकुर और देव कन्या ठाकुर पिछले सात साल से आयोजित करते आरहे हैं।

विवेक तिवारी ने कहा की हिमाचल द्वारा सम्मानित होना ख़ास है क्यूँकि अपने खुद के राज्य में सम्मान मिलना दिल के सबसे क़रीब है। देव कन्या और पुष्प राज ठाकुर जिस तन्मयता से कला और कलाकारों को सम्मान व योगदान दे रहे हैं वह अपने आप में क़ाबिले तारीफ़ है।

विश्व के दूर- दूर देशों से आए फ़िल्मकारों को सही तरीक़े से कैसे मान सम्मान और प्यार दिया जाना यह जानते हैं जो अपने आप में प्रसंशनीय है। यह फ़ेस्टिवल दुनिया के किसी भी बड़े फ़ेस्टिवल की तुलना में आज बराबरी में खड़ा है और तेज़ी से आगे बढ़ रहा है।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री के साथ शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज, मेयर शिमला सत्या कौंडल, निदेशक भाषा एव संस्कृति विभाग डा. पंकज ललित, डॉ. कर्म सिंह व कंगना रणौत की फिल्म ‘थलइवी’ के निर्देशक विजय मौजूद रहे।

‘हाटी वी एग्जिस्ट’ के निर्देशक ने खचाखच भरे गेयटी थियेटर के दर्शकों और खास फिल्म देखने आए परम आदरणीय जगदीश शर्मा, जाइंट सेक्रेटरी केवल शर्मा, संपादक अश्विनी वर्मा, केन्द्रीय हाटी समिती के महा सचिव कुंदन सिंह शास्त्री, डाक्टर माम राज पुंडीर, प्रदीप सींगटा, हीरा सिंह ठाकुर और बौलिवुड के अभीनेता हैप्पी शर्मा का तहे दिल से शुक्रिया अदा किया।

हाटी समुदाय पर आधारित इस फिल्म को कल ही मुंबई के यथा कथा फिल्म समारोह में दिखाया गया और दिसंबर में यह फिल्म चाइना के गंगजोंह शहर में दिखाई जाएगी।

Written by Newsghat Desk

मुख्यमंत्री नूतन पॉलीहाउस योजना किसानों के लिए वरदान हुई साबित..

बलात्कार के आरोपी को मिली सजा, एक ही दिन की सुनवाई में पूरी हुई कार्यवाही…