in

साहब! 8 महीने से घर नहीं लौटा है बेटा, बुजुर्ग मां ने लगाई एसपी से मदद की गुहार…

साहब! 8 महीने से घर नहीं लौटा है बेटा, बुजुर्ग मां ने लगाई एसपी से मदद की गुहार…

साहब! 8 महीने से घर नहीं लौटा है बेटा, बुजुर्ग मां ने लगाई एसपी से मदद की गुहार…

MLA ने दिया सात दिन का अल्टिमेटम…

एक बुजुर्ग महिला अपने 35 वर्षीय बेटे को ढूंढने की फरियाद लेकर एसपी ऑफिस पहुंची जो कि पिछले 8 महीने से लापता है। उसके साथ पहुंचे विधायक सतपाल सिंह रायजादा ने मामले तत्काल एक्शन लेने को कहा है।

Admission notice

पीड़ित बेटे की मां का कहना है कि करीब 8 महीने पूर्व उसका 35 वर्षीय बेटा सुखविंदर सिंह उर्फ गोल्डी किसी ट्रक चालक के साथ गया था, लेकिन उसके बाद से वह वापस नहीं लौटा, जबकि ट्रक चालक को पूछने पर वह उसे हमेशा एक ही बात कहता है कि उसका बेटा लखनऊ में उतर गया था,और उसके बाद वो उसे भी वापस नहीं मिला।

JPREC-June
JPREC-June
Sniffers 04
Sniffers 04

महिला का कहना है कि उसने कई बार संतोषगढ़ पुलिस चौकी में भी अपने बेटे को खोजने की फरियाद लेकर गुहार लगाई, लेकिन पुलिस द्वारा उसे हमेशा लखनऊ में जाकर मामले की शिकायत करने की बात कह कर टाल दिया गया। मामला हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले के सीमांत गांव मलूकपुर का है।

तभी बुजुर्ग मां प्यार कौर के साथ सदर विधानसभा क्षेत्र के विधायक सतपाल सिंह रायजादा भी पहुंचे, उन्होंने पुलिस अधीक्षक से मिलकर बुजुर्ग मां को उसके बेटे से मिलाने के लिए गुहार लगाई है।

वहीं, महिला प्यार कौर ने पुलिस पर उसकी बात को अनसुना करने के आरोप भी लगाए हैं। महिला ने बताया कि करीब 8 माह पूर्व उसके ही गांव का निवासी जसवीर सिंह नाम का व्यक्ति उसके बेटे सुखविंदर सिंह को अपने साथ ट्रक पर ले गया था। कुछ दिनों के बाद जसवीर सिंह तो वापस लौट आया लेकिन उसका बेटा वापस नहीं लौटा,और अभी तक उसके साथ कोई संपर्क नहीं हुआ।

सुखविंद्र की बहन ने कहा कि इस घटना के बाद उन्होंने संतोषगढ़ पुलिस चौकी में भी करीब 3 बार अपने सुखविंद्र को खोजने के लिए प्रार्थना पत्र दिया लेकिन पुलिस कर्मचारियों ने उसे लखनऊ जाकर मामले की शिकायत करने को कहा जा रहा है।

वहीं, पुलिस अधीक्षक अर्जित सेन ठाकुर ने कहा कि 35 साल के सुखविंदर सिंह के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है तथा पुलिस हर पहलू को ध्यान में रखकर मामले की जांच करेगी।

मामले में एसपी ने कहा कि लापता हुआ व्यक्ति बालिग है अभी पता है क्या लगाना होगा कि वह अपनी मर्जी से गया है, या फिर उसके साथ कोई घटना घटित हुई है। इन सब को मद्देनजर रखते हुए पुलिस हर पहलू तब जाकर जांच करेगी।

Written by Newsghat Desk

अनिल सैनी महिला मोर्चा और हितेंद्र कुमार अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रभारी नियुक्त

अनिल सैनी महिला मोर्चा और हितेंद्र कुमार अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रभारी नियुक्त

शातिरों ने नही बख्शे रेहड़ी ढाबे वाले, इस गंदी हरकत को दिया अंजाम

शातिरों ने नही बख्शे रेहड़ी ढाबे वाले, इस गंदी हरकत को दिया अंजाम