in

सिरमौर जिला में पीएमजीएसवाई के तहत कुल 263 सड़कें स्वीकृत-सुरेश कश्यप…

सिरमौर जिला में पीएमजीएसवाई के तहत कुल 263 सड़कें स्वीकृत-सुरेश कश्यप…

जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति ‘‘दिशा’’ की हुई बैठक…..

लोकसभा सांसद सुरेश कश्यप ने शुक्रवार को नाहन में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति ‘‘दिशा’’ की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि सिरमौर जिला के लिये प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के प्रारम्भ से लेकर अभी तक कुल 263 सड़कें स्वीकृत हुई हैं।

जिनमें से 235 सड़कों का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है जबकि 28 सड़कों पर अभी कार्य चल रहा है। उन्होंने 28 सड़कों के निर्माण कार्यों को भी शीघ्र पूरा करने के निर्देश लोक निर्माण विभाग के अभियंताओ को दिए।

BKD School
BKD School

लोकसभा सांसद ने सभी विभागों के अधिकारियों से केन्द्रीय प्रायोजित योजनाओं व कार्यक्रमों को समयबद्ध ढंग से पूरा करने का आग्रह करते हुए कहा कि सभी कार्यों में गति लाई जाए साथ ही गुणवत्ता का भी विशेष तौर पर ध्यान रखा जाए। उन्होंने कहा कि सड़कों, पुलों, भवनों व अन्य निर्माण निर्माण कार्यों की सभी अधिकारी समय-समय पर समीक्षा करें और कार्यों की गुणवत्ता की लगातार निगरानी करें। उन्होंने कहा कि विभिन्न योजनाओं के तहत सभी लंबित कार्यों की रिपोर्ट मंगवाकर इनके कार्यान्वयन को समयबद्ध सुनिश्चित किया जाए।

उन्होंने जल शक्ति विभाग के अभियंताओं को निर्देश दिए कि जल जीवन मिशन के तहत सभी घरों को पेयजल की सुविधा सुनिश्चित बनाई जाए।

उन्होंने कहा कि विभाग इस बात पर ध्यान दें कि केवल पाईपें बिछाकर लंबे समय तक ग्रामीण लोगों को पेयजल का इंतजार न करवायें बल्कि तुरंत कुनैक्शन देकर पेयजल की आपूर्ति भी सुनिश्चित बनाएं।

सुरेश कश्यप ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सिरमौर जिला में 2318 आवास निर्माण के लक्ष्य के मुकाबले 2822.58 लाख रुपये की लागत से 1683 आवासों का निर्माण किया गया है तथा शेष पर निर्माण कार्य जारी है।

इसी प्रकार नाहन नगर परिषद में 362 मकान स्वीकृत हुए जिसमें से 269 का निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है जिस पर   5.21 करोड़ रुपये व्यय किये गए हैं। नगर पंचायत राजगढ़ के तहत 79 मकान स्वीकृत हुए जिसमें से 43 मकानों पर कार्य चल रहा है जिस पर 1.23 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं।

 

उन्होंने सिरमौर जिला में सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत चयनित कौलांवाला भूड़ पंचायत में 112 विकास एवं निर्माण कार्य तथा कोटीपधोग ग्राम पंचायत में किये जाने वाले 68 विभिन्न कार्यों पर विस्तृत चर्चा की तथा इन योजनाओं पर होने वाले व्यय की व्यवस्था के लिए सम्बन्धित विभाग से चर्चा की।

सांसद ने बताया कि जल जीवन मिशन के तहत सिरमौर जिला में 331 करोड़ रुपये की लागत की 237 पेयजल योजनाएं स्वीकृत हुई हैं जिसमें से 144 पेयजल योजनाएं पूर्ण हो चुकी हैं जिस पर 212 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं।

उन्होंने बताया कि आरडीएसएस के तहत प्रदेश के लिए स्मार्ट मिटरिंग के लिए बिजली विभाग को 1788.49 करोड़ रुपये स्वीकृत हुए हैं जिसमें से 82 करोड़ रुपये सिरमौर जिला के लिए स्वीकृत हुए हैं। इस योजना के तहत सिरमौर जिला में 68 किलोमीटर नई केबल डाली जाएगी, 178 किलोमीटर की नई लाईन तथा 142 कि.मी. की एलटी लाइनें डाली जाएंगी।

जानकारी देते हुए सुरेश कश्यप ने बताया कि जननी सुरक्षा योजना के तहत अप्रैल 2022 से नवम्बर 2022 तक संस्थागत प्रसव करवाने वाली 827 पात्र महिलाओं को 9 लाख रुपये के लाभ प्रदान किये गए हैं। इसी प्रकार जननी सुरक्षा योजना के तहत इसी अवधि में 3667 माताओं को प्रसूति के लिए 29.82 लाख रुपये के लाभ दिए गए हैं।

 

सांसद ने बताया कि प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत सिरमौर जिला में 10944 निशुल्क गैस कुनैक्शन पात्र महिलाओं को प्रदान किए गए है जिसमें नाहन में 2237, पच्छाद में 728, पौंटा साहिब में 2805, रेणुका जी में 2703 तथा शिलाई में 2471 गैस कुनैक्शन प्रदान किए गए। इसी प्रकार हिमाचल प्रदेश गुहणी सुविधा योजना के तहत जिला में 39005 निशुल्क गैस कुनैक्शन दिए गए हैं।

 

उन्होंने बताया कि मनरेगा के तहत सिरमौर जिला में 147 अमृत सरोवर बनाए जा रहे हैं जिसमें 25 सरोवर वन विभाग द्वारा बनाए गए हैं। उन्होंने कहा कि वर्ष 2022-23 में जिला में 15.18 लाख श्रम दिवस के लक्ष्य के मुकाबले 13.04 लाख श्रम दिवस सृजित किए गए हैं। उन्होंने कहा कि जिला में मनरेगा के तहत विभिन्न योजनाओं पर 7932 लाख रुपये व्यय किए गए हैं।

लोकसभा सांसद ने नाहन कुम्हारहट्टी राष्ट्रीय उच्च मार्ग पर बरसात के दौरान गिरे मलवे को तुरंत हटाने के निर्देश भी लोक निर्माण विभाग को दिए ताकि किसी भी संभावित दुर्घटना से बचा जा सके।

उन्होंने डा. यशवंत सिंह परमार मेडिकल काॅलेज एवं अस्पताल नाहन के निर्माण कार्य में आ रही अड़चन को  दूर करने के लिए केन्द्रीय लोक निर्माण विभाग और मैडिकल काॅलेज के प्रधानाचार्य को निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि मैडिकल कॅालेज के लिए शिमला रोड़ से मैडिकल काॅलेज तक प्रस्तावित वैकल्पिक सड़क निर्माण के प्रस्ताव को सम्बन्धित विभागों के साथ चर्चा कर अंतिम रूप दिया जाए।

 

विधायक सुखराम चौधरी तथा विधायक रीना कश्यप ने विभिन्न केन्द्र प्रायोजित योजनाओं के समयबद्ध कार्यान्वयन के लिए सभी अधिकारियों से आग्रह किया ताकि समय पर लोगों को इन योजनाओं का लाभ मिल सके।

 

उपायुक्त सिरमौर आर.के. गौतम, अतिरिक्त उपायुक्त मनेश कुमार यादव, जिला परिषद अध्यक्ष सीमा कन्याल, खंड विकास समिति अध्यक्ष अनिता शर्मा, नगर परिषद अध्यक्ष नाहन श्यामा पुंडीर, परियोजना अधिकारी जिला ग्रामीण विकास अभिकरण अभिषेक मित्तल तथा विभिन्न विभागों के अधिकारियांे सहित समिति के सरकारी और गैर सरकारी सदस्य भी इस अवसर पर उपस्थित रहे।

Written by Newsghat Desk

क्या है पांवटा साहिब मजदूर के साथ लूट के मामले की असलियत, पढ़ें पूरी सच्चाई

पूर्व विधायक चौधरी किरनेश जंग ने किया बांगरन पुल निरीक्षण….