in , , ,

हिमाचल में बड़ी कार्रवाई: अब ऐसे कसेगा नशा माफिया पर सरकार का शिकंजा! देखें क्या है मास्टर प्लान

हिमाचल में बड़ी कार्रवाई: अब ऐसे कसेगा नशा माफिया पर सरकार का शिकंजा! देखें क्या है मास्टर प्लान

हिमाचल में बड़ी कार्रवाई: अब ऐसे कसेगा नशा माफिया पर सरकार का शिकंजा! देखें क्या है मास्टर प्लान
हिमाचल में बड़ी कार्रवाई: अब ऐसे कसेगा नशा माफिया पर सरकार का शिकंजा! देखें क्या है मास्टर प्लान

हिमाचल में बड़ी कार्रवाई: अब ऐसे कसेगा नशा माफिया पर सरकार का शिकंजा! देखें क्या है मास्टर प्लान

 

हिमाचल में बड़ी कार्रवाई: हिमाचल प्रदेश में नशे के खिलाफ एक महत्वपूर्ण कदम उठाते हुए, नूरपुर जिला पुलिस के प्रस्ताव को मानते हुए, राज्य सरकार ने एक नशा कारोबारी को तीन महीने तक नजरबंद करने का आदेश दिया है।

हिमाचल में बड़ी कार्रवाई: अब ऐसे कसेगा नशा माफिया पर सरकार का शिकंजा! देखें क्या है मास्टर प्लान

इस आदेश को जरूरत पड़ने पर एक साल तक बढ़ाया भी जा सकता है। यदि आरोपी में सुधार नहीं होता है, तो उसकी अवैध रूप से अर्जित संपत्तियां भी जब्त की जा सकती हैं।

पुलिस ने 11 अक्तूबर 2023 को नारकोटिक ड्रग्स और साइकोट्रोपिक पदार्थ अधिनियम के तहत इस संबंध में एक स्थायी आदेश पारित किया था।

Plot for sale
Plot for sale

दिन भर की ताजा खबरों के अपडेट के लिए WhatsApp प NewsGha Media के इस लिंक को क्लिक कर चैनल को फ़ॉलो करें।

Kidzee 02
Kidzee 02

इस आदेश में नशा माफियाओं के खिलाफ कई प्रक्रियाएं और उपाय शामिल हैं, जैसे कि निरोधक निष्पादन, निरोधक आदेशों का निष्पादन, और अवैध रूप से अर्जित संपत्तियों की जब्ती।

15 नवंबर 2023 को, सचिव गृह विभाग और हिरासत प्राधिकरण को भेजे गए प्रस्ताव पर विचार करते हुए, पुनीत महाजन नामक एक नशा कारोबारी को नजरबंद करने का आदेश दिया गया।

Republic Day 01
Republic Day 01

पुनीत महाजन के खिलाफ पहले भी कई बार एनडीपीएस अधिनियम के तहत मामले दर्ज होते रहे हैं। इस बार, पुलिस ने उसे चरस और हेरोइन के साथ पकड़ा, जो उसके कब्जे से बरामद किए गए थे।

बार-बार गिरफ्तारी के बावजूद भी वह नशीले पदार्थों की तस्करी से बाज नहीं आया, जिससे साफ जाहिर होता है कि वह इस काम में आदतन शामिल है।

नूरपुर पुलिस के रिकॉर्ड्स का गहन अध्ययन करने के बाद, सचिव (गृह) और हिरासत प्राधिकरण ने पुनीत महाजन के खिलाफ नजरबंदी का आदेश जारी किया।

पुलिस अधीक्षक नूरपुर, अशोक रतन ने यह भी बताया कि यह राज्य का पहला मामला है जिसमें डिटेंशन अथॉरिटी ने डिटेंशन ऑर्डर पारित किया है।

इस कदम के साथ, पुलिस ने यह संकेत दिया है कि वे नशीली दवाओं से संबंधित अपराधों में शामिल व्यक्तियों और नेटवर्क को खोजने और रोकने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं।

इस निर्णय के माध्यम से, हिमाचल सरकार ने नशे के खिलाफ अपनी सख्त नीति का प्रदर्शन किया है और यह भी दिखाया है कि वे नशा कारोबारियों के खिलाफ कठोर कदम उठाने में संकोच नहीं करेंगे।

यह अन्य नशा कारोबारियों के लिए भी एक सख्त संदेश है कि अगर वे इस अवैध कार्य में लिप्त पाए गए, तो उन्हें भी कड़ी सजा का सामना करना पड़ सकता है।

दिन भर की ताजा खबरों के अपडेट के लिए WhatsApp प NewsGha Media के इस लिंक को क्लिक कर चैनल को फ़ॉलो करें।

Written by newsghat

सीएम सुक्खू का अगला मिशन: हिमाचल के लिए ऐसे लुभाएंगे अमेरिकी निवेशकों को! एक क्लिक में देखें पूरी रिर्पोट

सीएम सुक्खू का अगला मिशन: हिमाचल के लिए ऐसे लुभाएंगे अमेरिकी निवेशकों को! एक क्लिक में देखें पूरी रिर्पोट

हिमाचल में रोजगार के अवसर: हिमाचल में चाहिए जॉब तो अब इस वेबसाइट पर मिलेगी सूचना! एक क्लिक पर देखें पूरी रिर्पोट

हिमाचल में रोजगार के अवसर: हिमाचल में चाहिए जॉब तो अब इस वेबसाइट पर मिलेगी सूचना! एक क्लिक पर देखें पूरी रिर्पोट