in

Cryptocurrency : क्या होता है क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज ? कैसे कर सकते है इसका इस्तेमाल ? 

Cryptocurrency : क्या होता है क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज ? कैसे कर सकते है इसका इस्तेमाल ? 

पढ़ें, Cryptocurrency से जुड़ी सभी काम की बातें…

आज के समय में क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) एन्क्रिप्शन के माध्यम से सुरक्षित रहने वाली एक डिजिटल करेंसी है, तथा माइनिंग के माध्यम से नई करेंसी या फिर टोकन जेनरेट किए जाता है, और माइनिंग का अर्थ है, उत्कृष्ट कंप्यूटरों पर जटिल गणितीय समीकरणों को हल करने से है, एवं इस प्रक्रिया को माइनिंग कहते हैं।

इसी तरह नए क्रिप्टो कॉइन जेनरेट होता है पर जो निवेशक होते हैं, वह पहले से मौजूद कॉइन्स में ही ट्रेडिंग कर सकते हैं, व क्रिप्टो मार्केट में उतार-चढ़ाव का कोई हिसाब नहीं रहता है एवं वही जब मार्केट अचानक उठता है, कभी अचानक गिरता भी है, इससे बहुत से लोग लखपति बन चुके हैं, पर बहुतों ने अपना पैसा भी उतनी ही तेजी से डुबाया है।

BKD School
BKD School

क्रिप्टोकरेंसी क्या है ?

आपको बता दे कि यह हमारा ट्रेडिशनल या सरकारी करेंसी नहीं होता है, पर इसे लेकर वर्तमान में स्वीकार्यता दिन ब दिन बढ़ रहा है, और ट्रेडिशनल करेंसी एक सेंट्रलाइज्ड डिस्टिब्यूशन यानी एक बिंदु से वितरित होने वाले सिस्टम पर काम करता है, पर क्रिप्टोकरेंसी को डिसेंट्रलाइज्ड टेक्नॉलजी, ब्लॉकचेन, के जरिए मेंटेन किया जाता है एवं इससे इस सिस्टम में काफी पारदर्शिता बना रहता है, पर एन्क्रिप्शन के चलते एनॉनिमिटी रहता है, यानी कि कुछ चीजें गुप्त रहता है, और क्रिप्टो के समर्थकों का कहना है कि यह वर्चुअल करेंसी निवेशकों को यह ताकत प्रदान करता है कि आपस में डील करें, न कि ट्रेडिशनल करेंसी की तरह नियमन संस्थाओं के तहत।

क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज की ट्रेडिंग कैसे होती है ?

सबसे पहले इसके लिए आपको यह जानना होगा कि यह बनता कैसे है और आपको बता दे क्रिप्टो जेनरेट करने की प्रक्रिया को माइनिंग कहते हैं, तथा यह काम बहुत ही उत्कृष्ट कंप्यूटर्स में जटिल क्रिप्टोग्राफिक इक्वेशन्स यानी समीकरणों को हल करके किया जाता है, और इसके बदले में यूजर को रिवॉर्ड के रूप में कॉइन मिलता है और इसके बाद इसे उस कॉइन के एक्सचेंज पर बेचा जाता है।

कौन कर सकता है ट्रेडिंग ?

आपको बता दे कि ऐसे लोग जो कंप्यूटर या टेक सैवी नहीं हैं, वह कैसे क्रिप्टो निवेश की दुनिया में प्रवेश कर सकते हैं? आपको बता दे कि ऐसा जरूरी नहीं है कि हर निवेशक क्रिप्टो माइनिंग करता है, और आपको बता दे कि अधिकतर निवेशक बाजार में पहले से मौजूद कॉइन्स या टोकन्स में ट्रेडिंग करता है, और क्रिप्टो इन्वेस्टर बनने के लिए माइनर बनना जरूरी नहीं है।

आप असली पैसों से एक्सचेंज पर मौजूद हजारों कॉइन्स व टोकन्स में से कोई भी खरीद सकते हैं तथा भारत में ऐसे बहुत सारे एक्सचेंज हैं जो कम फीस या कमीशन में यह सुविधा प्रदान करता है, पर यह जानना जरूरी है कि क्रिप्टो में निवेश जोखिम भरा है तथा मार्केट कभी-कभी जबरदस्त उतार-चढ़ाव देखता है, इसलिए फाइनेंशियल एक्सपर्ट्स निवेशकों से एक ही बार में बाजार में पूरी तरह घुसने की बजाय रिस्क को झेलने की क्षमता रखने की सलाह देता है।

हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newsghat पर और व्हाट्सएप ग्रुप में ज्वाइन होने के लिए @newsghat पर क्लिक करें।

Written by Newsghat Desk

एप्पल लांच करने जा रहा है 5G सेट, मार्च में हो सकता है इवेंट…

Amazon पर स्टार्ट हुई धमाके दार सेल ….