in

Good Banking: सावधान अगर अब चेक बाउंस हुआ तो आपकी खैर नहीं, सरकार बना रही नियमों को सख्त

Good Banking: सावधान अगर अब चेक बाउंस हुआ तो आपकी खैर नहीं, सरकार बना रही नियमों को सख्त
Good Banking: सावधान अगर अब चेक बाउंस हुआ तो आपकी खैर नहीं, सरकार बना रही नियमों को सख्त

Good Banking: सावधान अगर अब चेक बाउंस हुआ तो आपकी खैर नहीं, सरकार बना रही नियमों को सख्त

हाल ही में आने वाले दिनों में यदि आपका चेक बाउंस (Cheque Bounce) हो जाता है तब आपको कई परेशानियों से गुजरना पड़ सकता है। और सरकार ऐसे मामलों से निपटने के लिए नियम लागू करने की तैयारी कर रही है।

दरअसल, चेक बाउंस के मामलों से प्रभावी तरीके से निपटने के लिए वित्त मंत्रालय चेक जारी करने वाले के अन्य खातों से पैसा काटने तथा ऐसे मामलों में नए खाते खोलने पर रोक लगाने जैसे कई कदमों पर विचार करने जा रही है।

चेक बाउंस के बढ़ते मामलों को देखते हुए मंत्रालय ने हाल में एक हाई लेवल बैठक बुलाई थी, जिसमें इस तरह के कई सुझाव प्राप्त हुए हैं, और अनेक तरह के एक्शन लिए है जो।नीचे दिए गए है।

क्या है नियम ?

आपको बता दे कि ऐसे मामलों से कानूनी सिस्टम पर भार बढ़ता है, और ऐसे में हाल ही में कुछ ऐसे सुझाव दिए गए हैं जिनमें कुछ कदम कानूनी प्रक्रिया से पहले उठाने होंगे मसलन चेक जारी करने वाले के खाते में पर्याप्त पैसा नहीं है ऐसे स्थित में उसके अन्य खातों से राशि काट लेना होगा।

Plot for sale
Plot for sale

एक सूत्रों ने यह भी बताया कि अन्य सुझावों में चेक बाउंस के मामले को कर्ज चूक की तरह लेना तथा इसकी जानकारी ऋण सूचना कंपनियों को देना शामिल है, जिससे कि व्यक्ति के अंक कम किए जा सके।

Kidzee 02
Kidzee 02

उन्होंने यह भी कहा है कि इन सुझावो को स्वीकार करने से पहले उन्हें कानूनी राय लेना जरूरी है।

चेक का भुगतान करना ही होगा

अब यह सुझाव अमल में आते आ जाता है, तब भुगतानकर्ता को चेक का भुगतान करने पर मजबूर होना पड़ेगा तथा अब इस मामले को अदालत तक ले जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

Republic Day 01
Republic Day 01

इससे कारोबारी सुगमता बढ़ेगी और इसके साथ ही खाते में पर्याप्त पैसा नहीं होने के बावजूद जानते-बूझते चेक जारी करने के चलन पर भी रोक लगेगी, इस तरह से लोन लेने वाले अब जल्दी लोन का भुगतान कर पाएगा।

आपको बता दे कि चेक जारी करने वाले के अन्य खाते से राशि स्वत: काटने के लिए मानक संचालन प्रक्रिया तथा अन्य सुझावों को देखना होगा।

व्हाट्सएप पर न्यूज़ घाट समाचार समूह से जुड़ने के लिए नीचे दिए लिंक को क्लिक करें।

यदि चेक बाउंस होने का मामला अदालत में दायर किया जाता है, तथा यह एक दंडनीय अपराध है जिसमें चेक की राशि से दोगुना जुर्माना या दो वर्ष तक का कारावास या दोनों सजा हो सकती है।

आपको बता दे कि उद्योग संगठन पीएचडी चैंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री ने हाल में वित्त मंत्रालय से अनुरोध किया था कि चेक बाउंस के मामले में बैंक से पैसा निकलने पर कुछ दिन तक अनिवार्य रोक लगाया जाए, जिससे कि चेक जारी करने वालों को जवाबदेह बनाया जा सके। और लोन भुगतान करने वाले आसानी से बिना किसी अतिरिक्त समय लिए लोन का भुगतान कर सके।

व्हाट्सएप पर न्यूज़ घाट समाचार समूह से जुड़ने के लिए नीचे दिए लिंक को क्लिक करें।

Written by newsghat

भाजपा का चुनावी थीम सॉन्ग हिमाचल की पुकार, फिर भाजपा सरकार लॉन्च करेंगे अमित शाह

Secret or Spy Camera 2022: वाह अब इस खुफिया कैमरे की मदद से करें किसी की भी जासूसी, कीमत इतनी कम की चौंक जाएंगे आप

Secret or Spy Camera 2022: वाह अब इस खुफिया कैमरे की मदद से करें किसी की भी जासूसी, कीमत इतनी कम की चौंक जाएंगे आप