Paonta Cong
in , , , , ,

HP News Update: हिमाचल में हजारों छात्रों की पढ़ाई पर संकट! क्या है पूरा मामला देखें एक क्लिक में

HP News Update: हिमाचल में हजारों छात्रों की पढ़ाई पर संकट! क्या है पूरा मामला देखें एक क्लिक में

HP News Update: हिमाचल में हजारों छात्रों की पढ़ाई पर संकट! क्या है पूरा मामला देखें एक क्लिक में
HP News Update: हिमाचल में हजारों छात्रों की पढ़ाई पर संकट! क्या है पूरा मामला देखें एक क्लिक में

HP News Update: हिमाचल में हजारों छात्रों की पढ़ाई पर संकट! क्या है पूरा मामला देखें एक क्लिक में

JPERC
JPERC

 

Admission notice

HP News Update: हिमाचल प्रदेश में एक महत्वपूर्ण फैसले के तहत, उच्च शिक्षा निदेशालय ने 12,021 विद्यार्थियों की छात्रवृत्ति रोक दी है।

यह कदम तब उठाया गया जब पाया गया कि इन विद्यार्थियों ने अपने बैंक खातों को आधार नंबर से नहीं जोड़ा है।

HP News Update: हिमाचल में हजारों छात्रों की पढ़ाई पर संकट! क्या है पूरा मामला देखें एक क्लिक में

यह कार्रवाई अनुसूचित जाति के छात्रों को मिलने वाली पोस्ट और प्री मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना के अंतर्गत की गई है।

इस निर्णय के बाद, उच्च शिक्षा निदेशालय ने शैक्षणिक सत्र 2023-24 के लिए वित्तीय बजट प्राप्त करने हेतु विश्वविद्यालयों, कॉलेजों और स्कूलों को आवश्यक नियमों का पालन करने के लिए कहा है।

इसमें आधार नंबर से नहीं जुड़े बैंक खातों का सत्यापन भी शामिल है। यह जिम्मेदारी अब शिक्षण संस्थानों के स्तर पर होगी।

दिन भर की ताजा खबरों के अपडेट के लिए WhatsApp पर NewsGhat Media के इस लिंक को क्लिक कर चैनल को फ़ॉलो करें।

इसके अतिरिक्त, उच्च शिक्षा निदेशालय ने सभी जिला उपनिदेशकों, स्कूलों और कॉलेजों के प्रिंसिपलों, और विश्वविद्यालयों के कुलपतियों और रजिस्ट्रारों को आधार और बैंक खातों को जोड़ने के महत्व पर विद्यार्थियों को जागरूक करने के लिए पत्र भेजा है।

इस पत्र के माध्यम से डॉ. हरीश कुमार, उच्च शिक्षा निदेशालय के अतिरिक्त निदेशक, ने सभी संबंधितों को सूचित किया है कि डीबीटी (Direct Benefit Transfer) के माध्यम से छात्रवृत्ति वितरण को सुगम बनाने के लिए विद्यार्थियों के बैंक खातों को उनके आधार नंबर से जोड़ना अनिवार्य है।

पत्र में यह भी उल्लेख किया गया है कि शैक्षणिक सत्र 2022-23 के दौरान, जिन 7,230 प्री मैट्रिक और 4,791 पोस्ट मैट्रिक छात्रों ने अपने बैंक खातों को आधार से नहीं जोड़ा, उनकी छात्रवृत्ति राशि रोक दी गई है।

इसके अलावा, केंद्र सरकार ने इस मुद्दे का समाधान करने और विद्यार्थियों को अंतिम अवसर देने का निर्णय लिया है।

स्कूलों, कॉलेजों, और विश्वविद्यालयों में छात्रवृत्ति से संबंधित प्रभारी शिक्षकों को विद्यार्थियों को इस संदर्भ में जागरूक करने और उनके बैंक खातों को आधार के साथ जोड़ने में मदद करने के निर्देश दिए गए हैं। यदि विद्यार्थी इस प्रक्रिया को पूरा नहीं करते हैं, तो उन्हें छात्रवृत्ति राशि प्रदान नहीं की जाएगी।

दिन भर की ताजा खबरों के अपडेट के लिए WhatsApp पर NewsGhat Media के इस लिंक को क्लिक कर चैनल को फ़ॉलो करें।

Written by Newsghat Desk

Paonta Sahib: द स्कॉलर्स होम स्कूल में पूर्व छात्रों की पहली बैठक! ये रहे खास कार्यक्रम

HP News Update: हिमाचल में हजारों छात्रों की पढ़ाई पर संकट! क्या है पूरा मामला देखें एक क्लिक में

HP News Update: हिमाचल में हजारों छात्रों की पढ़ाई पर संकट! क्या है पूरा मामला देखें एक क्लिक में