in

Mutual Fund में कैसे करें निवेश, कौन से निवेश में होगा फायदा ही फायदा

Mutual Fund में कैसे करें निवेश, कौन से निवेश में होगा फायदा ही फायदा

जानिए Mutual Fund में निवेश से जुड़ी हर जानकारी…

हाल ही में देखा गया है कि कई लोगों का रुझान म्यूचुअल फंड की ओर बढ़ा है। इसमें SIP के माध्यम से निवेश करने वालों की संख्या अधिक है। इसमें शेयर्स इसके अलावा डेट फंड, गोल्ड और कमोडिटी में भी पैसे निवेश किये जा सकते हैं।

यदि आप भी इसमें अपने पैसे निवेश करने के बारे में सोच रहे है तो इसके बारे में आपको कुछ जरूरी जानकारी होना आवश्यक है। जिससे आपका पैसा दोगुना भी हो सकता है।

कैसे चुनें म्यूचुअल फंड

आप म्यूचुअल फंड में निवेश किस उद्देश्य से करना चाहते है इसका ध्यान रखते हुए ही म्यूचुअल फंड का चयन करें। क्योंकि वहाँ कई तरह की ऑप्शन होते हैं जैसे यदि आपको एक-दो सालों के लिए निवेश करना है तो उसके लिए डेट फंड या लिक्विड फंड बेहतर माने जाते हैं।

Holi-2
Holi-2

वही यदि आपको लॉन्ग टाइम के लिए इनवेस्ट करना है तो फिर इक्विटी म्यूचुअल फंड बेहतर माना जाता है।

फंड का पिछला रिकॉर्ड नजरअंदाज ना करे…

किसी भी प्रकार के म्यूचुअल फंड का चुनाव करते समय उसके पिछले रिकॉर्ड का पता होना बहुत आवश्यक है। इस रिकॉर्ड से आप यह पता लगा सकेंगे की इसने पहले कितने प्रतिशत रिटर्न निवेशकों को दिया है। हालांकि यह बात हमेशा सही नहीं सिद्ध होती की पहले जितना रिटर्न दिया है उतना ही अगली बार भी दे। यह रिटर्न कई कारको पर निर्भर करता है।

एक्सपेंस रेश्यो होना चाहिए कम…

फंड में निवेश करने से पहले, फंड का चुनाव करते समय उसके खर्चों का ब्यौरा पता लगा ले। इसमें एंट्री और एक्जिट लोड, एसेट मैनेजमेंट चार्ज, एक्सपेंस रेश्यो आदि सम्मिलित होते है। सामान्यतः 1.5% तक का एक्सपेंस रेश्यो फंड के लिए सही रहता है।

कंपनी के बारे में जुटाऐ जानकारी

जिस म्यूचुअल फंड में आप निवेश करने के लिए तैयारी कर रहे है उसको लाने वाली कंपनी और मैनेजमेंट टीम किस प्रकार काम कर रही है और कैसी है ?

इसके बारे में अच्छे से जानकारी जुटा लेनी चाहिए। कंपनी का परफॉरमेंस कैसा है कंपनी की साख बाजार में कैसी है और अन्य सभी बातो का आप पता लगा लेते हैं तो आपके लाभ होने की संभावना काफी हद तक बढ़ जाती है।

रिटर्न और रिस्क हो बैलेंस

यदि आप इक्विटी म्यूचुअल फंड में पैसे लगाने जा रहे हैं तो आप इस बात का रिस्क नहीं ले सकते कि आपके निवेश की राशि में गिरावट आ जाए। इसलिए ऐसा फंड चुनने की कोशिश करें, जिसमें रिटर्न और रिस्क बैलेंस हो।

दोस्तों, देश- विदेश और दुनिया की खबरों को तेजी से जानने के लिए बने रहे आपके अपने न्यूज़ घाट के साथ।

हमें फेसबुक पर फॉलो करने के लिए @newsghat पर और व्हाट्सएप ग्रुप में ज्वाइन होने के लिए @newsghat पर क्लिक करें।

Written by Newsghat Desk

Bank Exam : अगर बैंक में नौकरी करना चाहते हैं ? तो ये आपके लिए है

Personal Loan : जानें कैसे 30 सैकंड और सिर्फ 3 क्लिक में मिलेगा पर्सनल लोन