in , , , , , ,

Paonta Sahib: पांवटा साहिब में इस दिन होगी करोड़ों की संपत्ति की नीलामी! एक क्लिक में देखें पूरी रिर्पोट

Paonta Sahib: पांवटा साहिब में इस दिन होगी करोड़ों की संपत्ति की नीलामी! एक क्लिक में देखें पूरी रिर्पोट

Paonta Sahib: पांवटा साहिब में इस दिन होगी करोड़ों की संपत्ति की नीलामी! एक क्लिक में देखें पूरी रिर्पोट

Paonta Sahib: हिमाचल प्रदेश में टैक्स और कर्ज घोटाले के मामले में पांवटा साहिब की प्रमुख कंपनी, इंडियन टेक्नोमैक, एक बार फिर सुर्खियों में है।

Paonta Sahib: पांवटा साहिब में इस दिन होगी करोड़ों की संपत्ति की नीलामी! एक क्लिक में देखें पूरी रिर्पोट

इस कंपनी पर आरोप है कि उसने 2008 से 2014 के बीच लगभग 6000 करोड़ रुपए का घोटाला किया। इसमें 2200 करोड़ रुपए की वैट चोरी भी शामिल है, जो राज्य के आबकारी और कराधान विभाग को नुकसान पहुंचाती है।

इस बड़े घोटाले के बाद, कंपनी के मालिक राकेश शर्मा को कोर्ट ने अपराधी घोषित किया है। वह वर्तमान में विदेश में फरार हैं और उनके खिलाफ सीआईडी ने रेड कॉर्नर नोटिस जारी किया है।

दिन भर की ताजा खबरों के अपडेट के लिए WhatsApp प NewsGha Media के इस लिंक को क्लिक कर चैनल को फ़ॉलो करें।

Plot for sale
Plot for sale

अब, हिमाचल प्रदेश हाईकोर्ट के निर्देशानुसार, कंपनी की संपत्ति की नीलामी की जा रही है। इस नीलामी में कंपनी की फिक्स्ड बिल्डिंग, शेड, प्लांट और मशीनरी शामिल हैं, जिसकी कुल कीमत 52.25 करोड़ रुपए है।

Kidzee 02
Kidzee 02

इस नीलामी के लिए टेंडर 15 फरवरी से उपलब्ध होंगे और 24 फरवरी तक जमा कराए जा सकते हैं। इच्छुक खरीदार 22 से 24 फरवरी तक कंपनी की संपत्ति का निरीक्षण भी कर सकते हैं।

नीलामी की प्रक्रिया 27 फरवरी को कंपनी परिसर में होगी, जो सुबह 11:30 से शाम 5 बजे तक चलेगी। इस नीलामी के माध्यम से, विभिन्न खरीदारों को कंपनी की संपत्ति खरीदने का मौका मिलेगा।

Republic Day 01
Republic Day 01

इस नीलामी के पूर्व, इंडियन टेक्नोमैक की संपत्ति पहले भी 5 बार नीलाम की जा चुकी है। पिछली नीलामियों में, वर्ष 2023 में, 6.36 करोड़ और 22.75 करोड़ रुपए की संपत्ति बेची गई थी, जिसमें शेड, वाहन और जमीन शामिल थे।

इस बार की नीलामी और भी बड़ी है, जिसमें कुल 52 करोड़ 25 लाख रुपए की संपत्ति शामिल है।

यह नीलामी न केवल कंपनी के वित्तीय घोटाले के प्रति न्यायिक प्रतिक्रिया का हिस्सा है, बल्कि यह प्रदेश सरकार के राजस्व को भी बढ़ाने का एक माध्यम है।

इस नीलामी से प्राप्त राशि का उपयोग घोटाले के प्रभावित पक्षों की भरपाई और राज्य के विकास कार्यों में किया जा सकता है।

इस नीलामी में उच्च रिजर्व मूल्य के कारण, बड़े निवेशकों और कॉर्पोरेट संस्थाओं की भागीदारी की उम्मीद है।

यह नीलामी न केवल आर्थिक दृष्टि से महत्वपूर्ण है, बल्कि यह अन्य कंपनियों के लिए भी एक सबक है कि वित्तीय अनियमितताएं और घोटाले गंभीर परिणामों का कारण बन सकते हैं।

दिन भर की ताजा खबरों के अपडेट के लिए WhatsApp प NewsGha Media के इस लिंक को क्लिक कर चैनल को फ़ॉलो करें।

Written by Newsghat Desk

जल्दी करें: हिमाचल में 150 सुरक्षा गार्ड सुपरवाइजर की भर्तियाँ! आवेदन की अंतिम तिथि नजदीक! यहां देखें पूरी ख़बर

Sirmour News: सीएम सुक्खू ने नाहन को दी करोड़ों की सौगात! ये रहे खास कार्यक्रम