in

Paonta Sahib: रोटरी क्लब की प्रेजिडेंट होंगी कविता गर्ग, 1 जुलाई से संभालेंगी कमान

Paonta Sahib: रोटरी क्लब की प्रेजिडेंट होंगी कविता गर्ग, 1 जुलाई से संभालेंगी कमान

Paonta Sahib: रोटरी क्लब की प्रेजिडेंट होंगी कविता गर्ग, 1 जुलाई से संभालेंगी कमान

 

Admission notice

Paonta Sahib: समाजसेवा में अग्रणी रोटरी क्लब के पाँवटा साहिब के अध्यक्ष की घोषणा कर दी है। रोटेरियन कविता गर्ग अगले एक वर्ष के लिए क्लब की प्रधान होगी।

JPREC-June
JPREC-June

वे एक जुलाई को कमान संभालेगी। वर्तमान प्रेजिडेंट राकेश रहल उन्हें बैज पहनाकर कार्यभार सौंपेंगे। इससे पहले रोटरी सखी की प्रेजिडेंट की भी घोषणा हुई, मीनाक्षी रहल रोटरी सखी की प्रधान होगी। ऐसे में अब दोनों क्लब की कमान महिलाओं के हाथ होगी।

रोटेरियन कविता गर्ग, पिछले 25 साल से शिक्षा के क्षेत्र में पाँवटा साहिब में अपनी सेवाएं दे रही हैं एवं हर प्रकार के सामाजिक कार्यक्रम में बढ़-चढ़कर हिस्सा लेती हैं। वह रोटरी क्लब पाँवटा साहिब की पहली जुलाई से कमान संभालने जा रही है।

देश दुनिया और वित्तीय जगत के ताजा समाचार जानने के लिए न्यूज़ घाट व्हाट्सएप समूह से जुड़े। नीचे दिए लिंक पर अभी क्लिक करें

Mehar Electrical
Mehar Electrical

इस मौके पर रोटेरियन कविता गर्ग ने रोटरी क्लब के सदस्यों के अलावा अन्य सभी लोगों से भी सहयोग का आग्रह किया है।

उन्होंने कहा कि जो भी जीवन में पाते हैं वह सब एक दूसरे के सहयोग से ही पाते हैं। प्रकृति का नियम है कि अकेला कोई भी सफलता प्राप्त नहीं करता।

उधर, 1 जुलाई को ही रोटरी क्लब डॉक्टर डे व सीए (C A)”डे मनायेगा। जिसमें रोटरी द्वारा दो डॉक्टर व दो CA को समानित किया जाएगा।

इसके साथ ही इसी दिन गीता भवन में अन्नपूर्णा डे मनाया जाएगा, जिसमें रोटरी द्वारा भंडारे का अयोजन किया गया है। तीन मंदिर विश्कर्मा, गीता भवन मंदिर व यमुना मंदिर में डस्टबीन स्थापित किये जायेंगे।

देश दुनिया और वित्तीय जगत के ताजा समाचार जानने के लिए न्यूज़ घाट व्हाट्सएप समूह से जुड़े। नीचे दिए लिंक पर अभी क्लिक करें

Written by Newsghat Desk

Himachal Online froud: भतीजे के नाम पर झूठी कहानी गढ़ दिया ऑनलाइन ठगी को अंजाम! 19 लाख की चपत

नए आबकारी नियम: हिमाचल में शराब परोसने के लिए लाइसेंस के नियम बदले! अब अलग-अलग क्षेत्रों के लिए अलग-अलग लाइसेंस फीस

नए आबकारी नियम: हिमाचल में शराब परोसने के लिए लाइसेंस के नियम बदले! अब अलग-अलग क्षेत्रों के लिए अलग-अलग लाइसेंस फीस