in

आंजभोज क्षेत्र के बनौर निवासी 108 वर्षीय धूडू राम मतदान के लिए बने प्रेरणास्रोत

आंजभोज क्षेत्र के बनौर निवासी 108 वर्षीय धूडू राम मतदान के लिए बने प्रेरणास्रोत

 

हिमाचल प्रदेश के जिला सिरमौर के पांवटा साहिब निर्वाचन अंतर्गत गांव बनौर निवासी 108 वर्षीय धूडू राम का सोमवार को निधन हो गया।

BKD School
BKD School

धूडू राम ने सिरमौर जिला में लोकसभा चुनाव के स्वीप कार्यक्रम में प्रमुख आईकन की भूमिका निभाई थी।

लोकसभा चुनाव में तत्कालीन डीसी ललित जैन ने पांवटा साहिब के बनौर गांव का दौरा करके स्वयं धूडू राम से मुलाकात कर उनका कुश्लक्षेम पूछा था। बता दें कि धूडूराम प्रदेश के सबसे वरिष्ठ मतदाता थे।

सिरमौर में लोकसभा चुनाव के दौरान मतदाताओं को जागरूक करने के लिए धूडू राम प्रमुख आईकन थे और इनका संदेश जिला में घर घर तक पहुंचाया गया।

इनके हौसले से अन्य मतदाताओं को भी प्रेरणा मिली। धूडूराम के आधार कार्ड और मतदाता पहचान पत्र में इनकी आयु एक जुलाई 1915 अंकित है। धूड्डू राम पेशे से पंडिताई का कार्य करते थे और अपने क्षेत्र के जाने- पंडित रहे हैं। धूडू राम अपने परिवार में अपनी चौथी पीढ़ी के साथ रह रहे थे।

धूडू राम के तीन बेटे है, जिनमें एक बेटा डाक विभाग से सेवानिवृत हुआ है व एक बेटा अध्यापक थे, जिनका निधन हो गया है और एक बेटा घर पर ही कार्य करते हैं। धूडू राम के पोते और पड़पोते हो गए है।

उस वक्त धूडू ने राम ने कहा था कि उनके द्वारा अंग्रेजो और रियासत काल का समय भी अच्छे तरीके से देखा है और स्वतंत्र भारत में अनेको बार मतदान भी कर चुके है।

उन्होंने कहा था कि लोकतंत्र के इस महापर्व में सभी लोगों को अपना मतदान करना चाहिए। वर्तमान में अनेक लोग मतदान नहीं करते है जो कि उचित नहीं है।

गौरतलब हो कि सिरमौर से सम्बंध रखने वाले प्रदेश के सबसे वरिष्ठ मतदाता धुड्डू राम के निधन पर मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने शोक व्यक्त किया है।

उन्होंने ईश्वर से दिवंगत आत्मा की शांति और शोक संतप्त परिजनों को इस अपूरणीय क्षति को सहन करने शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की है।

Written by Newsghat Desk

कांटी मशवा स्कूल में किशोरियों और महिलाओं को किया जागरूक

चोरी हुई बाईक पुलिस की मुस्तैदी से बरामद, शातिर हुआ रफूचक्कर, सीसीटीवी में हुआ कैद