in ,

वाह अब हिमाचल में 6 महीने तक सेब रहेगा तरोताजा: HPMC ने लिया अहम फैसला! HPMC के महाप्रबंधक हितेश आजाद ने दी जानकारी

वाह अब हिमाचल में 6 महीने तक सेब रहेगा तरोताजा: HPMC ने लिया अहम फैसला! HPMC के महाप्रबंधक हितेश आजाद ने दी जानकारी

वाह अब हिमाचल में 6 महीने तक सेब रहेगा तरोताजा: HPMC ने लिया अहम फैसला! HPMC के महाप्रबंधक हितेश आजाद ने दी जानकारी
वाह अब हिमाचल में 6 महीने तक सेब रहेगा तरोताजा: HPMC ने लिया अहम फैसला! HPMC के महाप्रबंधक हितेश आजाद ने दी जानकारी

वाह अब हिमाचल में 6 महीने तक सेब रहेगा तरोताजा: HPMC ने लिया अहम फैसला! HPMC के महाप्रबंधक हितेश आजाद ने दी जानकारी

वाह अब हिमाचल में 6 महीने तक सेब रहेगा तरोताजा: हिमाचल प्रदेश बागवानी उत्पाद विपणन एवं प्रसंस्करण निगम (HPMC) ने अब सेब को लकड़ी और प्लास्टिक के डिब्बे में कोल्ड स्टोर करने का फैसला किया है।

Admission notice

यह कदम सेब की गुणवत्ता को बढ़ाने और उसकी ताजगी को बरकरार रखने के लिए उठाया गया है।

वाह अब हिमाचल में 6 महीने तक सेब रहेगा तरोताजा: HPMC ने लिया अहम फैसला! HPMC के महाप्रबंधक हितेश आजाद ने दी जानकारी

JPREC-June
JPREC-June

यह पहली बार हो रहा है जब HPMC लकड़ी और प्लास्टिक के डिब्बे का उपयोग कर रहा है, इससे पहले सेब को कार्टन में रखा जाता था।

HPMC के अनुसार, यह नया तरीका सेब को छह महीने तक ताजा रखने में सहायक होगा। यह कदम बागवानों को बेहतर दाम दिलाने के लिए उठाया गया है, जो कि सेब की गुणवत्ता और ताजगी को बरकरार रखने में सहायता करेगा।

जबकि कार्टन में सेब की गुणवत्ता पर अक्सर प्रभाव पड़ता था, लकड़ी और प्लास्टिक के डिब्बे में रखने से यह समस्या नहीं होगी।

Mehar Electrical
Mehar Electrical

HPMC के महाप्रबंधक हितेश आजाद ने बताया कि यह नया सिस्टम सीए स्टोर की पूरी क्षमता का इस्तेमाल करने में मदद करेगा।

देश दुनिया और वित्तीय जगत के ताजा समाचार जानने के लिए न्यूज़ घाट व्हाट्सएप समूह से जुड़े। नीचे दिए लिंक पर अभी क्लिक करें

HPMC के पास कुमारसैन के ओडी और रोहड़ू क्षेत्रों में सीए स्टोर हैं, जिनमें 700-700 मीट्रिक टन सेब की संग्रहण क्षमता है। उसी प्रकार, कोटखाई के गुम्मा और जरोल टिक्कर में 640-640 मीट्रिक टन सेब की संग्रहण क्षमता के सीए स्टोर मौजूद हैं।

ओडी और रोहड़ू में प्रत्येक में 4 चैंबर हैं, जिनकी क्षमता 175 मीट्रिक टन की है। वहीं, गुम्मा और जरोल टिक्कर में 8 चैंबर हैं, जिनकी प्रत्येक क्षमता 80 टन की है। इन सभी स्थलों पर सेब को छह महीने तक भंडारित किया जाता है।

बागवानी मंत्री जगत सिंह नेगी ने बताया कि यह कदम बागवानों की आय में वृद्धि के लिए सरकार के प्रयासों का हिस्सा है। सरकार ने इस वर्ष HPMC को सेब को लकड़ी और प्लास्टिक के डिब्बे में संग्रहित करने के निर्देश दिए हैं। नेगी का कहना है कि इससे सेब की गुणवत्ता और ताजगी बरकरार रहेगी और बागवानों को बेहतर मूल्य मिलेगा।

देश दुनिया और वित्तीय जगत के ताजा समाचार जानने के लिए न्यूज़ घाट व्हाट्सएप समूह से जुड़े। नीचे दिए लिंक पर अभी क्लिक करें

Written by newsghat

साईबर शातिरों के निशाने पर हिमाचल: शातिर यूं बना रहे पेंशनर्स को शिकार! साईबर क्राइम पुलिस ने जारी किया अलर्ट

साईबर शातिरों के निशाने पर हिमाचल: शातिर यूं बना रहे पेंशनर्स को शिकार! साईबर क्राइम पुलिस ने जारी किया अलर्ट

HP Govt Employee Transfer Policy: कर्मचारियों के तबादलों पर सुक्खू सरकार ने कड़े किए तेवर! विभागाध्यक्षों को दिए ये निर्देश उल्लंघन पर होगी कार्रवाई

HP Govt Employee Transfer Policy: कर्मचारियों के तबादलों पर सुक्खू सरकार ने कड़े किए तेवर! विभागाध्यक्षों को दिए ये निर्देश उल्लंघन पर होगी कार्रवाई