Paonta Cong
in

Husband Wife Relationship Tips: आनंदमय वैवाहिक जीवन के ये 5 सूत्र जान लेंगे तो पति- पत्नी में कभी नहीं होंगे झगड़े

Husband Wife Relationship Tips: आनंदमय वैवाहिक जीवन के ये 5 सूत्र जान लेंगे तो पति- पत्नी में कभी नहीं होंगे झगड़े

JPERC
JPERC

 

Admission notice

हमेशा से ज्योतिष शास्त्र के अनुसार मनुष्य के पूरे जीवन में कई बार ऐसी समस्या आ जाती है जो कि उसके जीवन पर बहुत ही बुरा प्रभाव डालती है।

वर्तमान समय में अक्सर व्यक्ति का वैवाहिक जीवन कई ऐसी समस्याओं का शिकार हो जाता है, और जिनका उसके साथ किसी भी प्रकार का वास्ता नहीं होता है पर हम आपको कुछ ऐसे उपाय बताने की कोशिश कर रहे हैं, जिसके मदद से आप अपने वैवाहिक जीवन को खुशहाल बना सकते हैं।

यदि आपका विवाहित जीवन किसी न किसी समस्या से जूझ रहा है तब इस वजह से आपके वैवाहिक रिश्ते को काफी चोट पहुंचती है, ऐसे में आपको आज ही इन उपाय को फॉलो करना चाहिए।

ऐसे में आज हम कुछ उपायों के बारे में बताने जा रहे हैं जो आपके तथा आपके वैवाहिक जीवन के लिए काफी लाभदायक सिद्ध हो सकते है।

• यह कहा जाता है कि पति के भोजन कर लेने के बाद उसी थाली में पत्नी को भोजन करना चाहिए, इसके साथ ही पति द्वारा छोड़े गए खाने के अंश का सेवन भी पत्नी द्वारा किया जाना चाहिए, और ऐसा करने से पति तथा पत्नी के बीच प्रेम बना रहता है, यह बात पतियों पर भी लागू होती है।

• आज के समय में पति अपनी पत्नी को सदैव सम्मान करें, और पति अपनी पत्नी को सम्मान बिल्कुल लक्ष्मी की तरह करें, तब घर में शांति बनी रहती है शादीशुदा जिंदगी खुशहाल बितता है। जिस घर में महिलाओं का सम्मान होता है वहां हमेशा लक्ष्मी निवास करती हैं।

• हमारे वैदिक शास्त्रों के अनुसार सुखी वैवाहिक जीवन के लिए पीपल तथा केले के पेड़ की पूजा करना फलदायक होता है।

• आपके द्वारा कमाए जाने वाले वेतन को प्रतिमाह आप अपनी पत्नी के हाथ में दें तथा आपकी पत्नी द्वारा ही उस वेतन को तिजोरी में रखा जाना चाहिए, इससे धन में वृद्धि होती है।

• आज के समय में पति या पत्नी द्वारा कभी भी अपने जीवनसाथी को उसकी कम आय के लिए ताने मारने का काम नहीं किया जाना चाहिए, और इससे पति-पत्नी के बीच झगड़े होता हैं तथा दूरियां बढ़ने लगती है।

जानिए सुखी दांपत्य जीवन के लिए कुछ टोने- टोटके

• एक मान्यता है कि यदि कोई स्त्री रात्रि के समय एक चुटकी सिन्दूर अपने पति के सिराहने पर रखती है, और प्रातः बिस्तर पर उठने से पहले (पलंग से उतरने से पूर्व) ही वह सिंदूर अपनी मांग में भर ले तब पति-पत्नी का दाम्पत्य जीवन खुशहाल बना रहता है।

• यदि पत्नी सदैव अपने हाथ में पीली चूड़ी पहन के रखे, तब भी दाम्पत्य जीवन में प्रेम तथा सुख बना रहता है।

• ये भी मान्यता है कि विवाह पश्चात विदाई के समय यदि एक लोटे पानी में एक चुटकी हल्दी, एक रूपये का सिक्का व गंगाजल डालकर दुल्हन के सर पर से ग्यारह बार उसार कर उसके आगे डाल दिया जाय, तब उसका वैवाहिक जीवन सदैव सुखमय बना रहता है।

• यदि कभी कोई स्त्री दान करना चाहे तब दान सामग्री में लाल सिंदूर के साथ इत्र की शीशी, चने की दाल और केसर अवश्य रखें, क्योंकि इससे पति की आयु में वृद्धि होती है।

• आज के समय में यदि विवाहित स्त्री नित्य प्रतिदिन दुर्गा चालीसा का पाठ करे तथा माँ दुर्गा के 108 नामों का जाप करे तब उस स्त्री का परिवार खुशहाल तथा दाम्पत्य प्रेम अटूट बना रहता है।

(उपरोक्त लेख सामाजिक और धार्मिक लोक मान्यताओं पर आधारित है। न्यूज़ घाट इसकी पुष्टि नहीं करता।)

Written by Newsghat Desk

पांवटा साहिब के वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला शिवपुर में सात दिवसीय एनएसएस शिविर का हुआ समापन…

अगर आप इंडियन स्टॉक मार्केट में निवेश करने के इन शानदार फायदों के बारे नहीं जानते तो चूक जाएंगे लाखों करोड़ों के मौके से