RTGS full form in hindi | NEFT full form in hindi

RTGS full form in hindi | NEFT full form in hindi

नमस्कार दोस्तों, आपके पसंदीदा न्यूज़ घाट में आपका स्वागत है आशा करते हैं कि आप हमेशा की तरह स्वस्थ और मस्त होंगे तो आज हम इस आर्टिकल RTGS full form in hindi | NEFT full form in hindi में जानेंगे कि RTGS क्या है ? RTGS कैसे किया जाता है? RTGS फुल फॉर्म in Hindi, RTGS में कितना टाइम लगता है ? NEFT क्या है ? NEFT कैसे किया जाता है ? NEFT फुल फॉर्म in Hindi, तथा RTGS और NEFT से जुड़ी सभी जानकारी आप को इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद प्राप्त हो जाएगी तो इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़ते रहिए।

RTGS क्या है आपको अभी तक यह पता नहीं है तो आप जमाने से बहुत पीछे हैं हो सकता शायद आप अभी भी अपने बैंक के पैसे ट्रांसफर करने के लिए बैंक की लंबी-लंबी लाइनों में अपना कीमती समय नष्ट करते होंगे। लेकिन आजकल आप घर बेैठे ऑनलाइन अपने पैसे एक जगह से दूसरी जगह मिनटों में पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं।

आजकल कई मॉडर्न बैंकिंग सेवाऐं उपलब्ध है जैसे RTGS, NEFT और IMPS आदि जोकि इस लेनदेन प्रक्रिया को काफी आसान बना देते हैं। यह ऐसी सेवाऐ होती है जिनकी मदद से आप तुरंत और सुरक्षित रूप से पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं। तो आइए जानते हैं कि कैसे आप भी मिनटों में अपना पैसा ट्रांसफर करेंगे।

RTGS और NEFT क्या है ?

आइये हम एक-एक करके दोनों को समझते हैं कि RTGS क्या है और NEFT क्या है ?

RTGS क्या है ?

यह फंड सेटलमेंट की निरंतर रियल टाइम प्रोसेस होती हेै जहां फंड को व्यक्तिगत और आर्डर-बाय-आर्डर पर बिना netting एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट भेजा जा सकता है। सरल शब्दों में कहा जाए तो यह एक ऑनलाइन बैंकिंग प्रक्रिया होती है जहां हम अपने पैसे को बिना किसी प्रतीक्षा के एक अकाउंट से दूसरे अकाउंट में भेज सकते हैं।

RTGS एक ‘ग्रॉस सेटलमेंट कॉन्सेप्ट’ पर आधारित फंड ट्रांसफर सिस्टम है, जहां रियल टाइम में एक बैंक से दूसरे बैंक में पैसा ट्रांसफर किया जाता है। RTGS मुख्य रूप से उच्च लेनदेन राशियों के लिए डिज़ाइन किया गया है। हस्तांतरण राशि की न्यूनतम सीमा 2 लाख रुपए होती है जबकि अधिकतम कोई सीमा नहीं है, आप चाहे जितने पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं। जब तक आपका बैंक ब्रांच आपके लिए लिमिट तय ना करें। RTGS विशेष रूप से तब उपयोगी होता है जब लेन-देन की राशि अधिक होती है, और भुगतान को तुरंत संसाधित करने की आवश्यकता होती है।

KB full form | Full Form of KB | KB ka full form

LOVE  ka full form | I Love You ka full form

यह सिस्टम Reserve Bank of India (RBI) के द्वारा मेंटेन किया जाता है। इसलिए RTGS पैसे को ट्रांसफर करने का एक बहुत तेज और सुरक्षित जरिया है। ध्यान रहे rtgs में हस्तांतरण करने की न्यूनतम सीमा दो लाख रुपए रहती हे जिस वजह से RTGS का इस्तेमाल कारोबार, उद्योग, धंधों वाले व्यक्तियों के लिए उपयुक्त हेै।

RTGS फुल फॉर्म in Hindi

R: Real
T: Time
G: Gross
S: Settlement

RTGS का फुल फॉर्म रियली टाइम ग्रोथ सेटलमेंट होता है।

RTGS कैसे किया जाता है ?

अक्सर लोगों के मन में सवाल उठता है कि हम RTGS द्वारा पैसे ट्रांसफर कैसे करें। तो इसकी चिंता आप बिल्कुल मत करिए हम बताते हैं कि आपको इसे कैसे करना है आप इसे दो तरीकों से कर सकते हैं।

1. RTGS ऑनलाइन विधि द्वारा
2. RTGS ऑफलाइन विधि द्वारा

1. RTGS ऑनलाइन विधि द्वारा

ऑनलाइन विधि के अंतर्गत आपको इंटरनेट बैंकिंग का इस्तेमाल करते हुए RTGS द्वारा पैसे भेजने होते है। इसमें आपको सबसे पहले जिस व्यक्ति को पैसे भेजने हैं उसे Beneficiary Customer के रूप में अपने ऑनलाइन अकाउंट में जोड़ना होता है। जिसके लिए आपको उस व्यक्ति की कुछ जानकारी की आवश्यकता होती है।

• बैंक और ब्रांच का नाम
• जिस व्यक्ति को भेजना है उसका नाम
• उसके बैंक का अकाउंट नंबर
• उसके बैंक का IFSC कोड (Indian Financial System Code)

AM PM full form in hindi | Full Form of AM and PM in hindi

Sorry full form | Sorry ka full form

यह सब जानकारी पूर्ण करने के पश्चात आपकी बैंक द्वारा इस व्यक्ति की जानकारी को वेरीफाई किया जाता है और यह डिटेल चेक करने में 12 से 24 घंटे का समय लग सकता है। जब बैंक द्वारा इस व्यक्ति की जानकारी वेरीफाई कर दी जाती है उसके पश्चात आप उस व्यक्ति को ऑनलाइन RTGS द्वारा पैसे भेज सकते हैं।

2. RTGS ऑफलाइन विधि द्वारा

यदि आप ऑनलाइन उलझनों में नहीं पड़ना चाहते हैं तो आप अपनी बैंक ब्रांच पर स्वयं जाकर इस RTGS प्रोसेस को पूरा कर सकते हैं।

इसके लिए सर्वप्रथम आपको एक इंस्ट्रक्शन स्लिप को भरना होता है यह आपके चेक डिपॉजिट या अन्य सामान्य फॉर्म की तरह ही होती है।

इसके बाद आपको इंस्ट्रक्शन स्लिप भरनी पड़ती है जहां जो भी जानकारी की आवश्यकता हो भर के जमा करवा दे। उसके पश्चात आपकी बैंक 30 मिनट या कुछ घंटो में RTGS हस्तांतरण कंप्लीट कर देगी।

RTGS ट्रांजेक्शन के कुछ महत्वपूर्ण फीचर

1. RTGS का इस्तेमाल ज्यादा पैसे भेजने के लिए किया जाता है।
2. यह बहुत ही सेफ और सिक्योर और माना जाता है।
3. इसमें ऑनलाइन रियल टाइम फंड ट्रांसफर हो जाता है।
4. यह एक विश्वसनीय हस्तांतरण माना जाता है क्योंकि यह RBI की देखरेख में होता है।
5. बहुत कम समय में पैसे का हस्तांतरण होता है।

SP ka full form | SP ka full form in hindi

BSA full form |  BSA ka full form

RTGS Transactions के चार्जेस क्या है ?

RTGS प्रक्रिया में ट्रांजेक्शन के कुछ चार्जेस लगते है। इसमें जो व्यक्ति पैसे भेजता है उसको चार्जेस का भुगतान करना होता है और जिसे पैसे प्राप्त होते हैं उसे किसी प्रकार का कोई चार्ज नहीं भुगतान करना पड़ता। इसमें आपकी राशि के अनुसार चार्जेस लगते हैं।

God Bless You Meaning in hindi | God Bless You in hindi Meaning

SDM Full Form In Hindi | एसडीएम का क्या काम होता है

यदि आप 2 लाख से लेकर 5 लाख के बीच ट्रांसफर करते हैं तो आपको ₹30 ट्रांजेक्शन फीस के रूप में चुकाने पड़ेंगे।

यदि आप 5 लाख रुपए से ऊपर ट्रांसफर करते हैं तो आपको 55 रुपए ट्रांजेक्शन फीस के रूप में चुकाने पड़ेंगे।
(ध्यान रहे यह फीस per transaction हैं)

NEFT क्या है ?

NEFT एक देशव्यापी इलेक्ट्रोनिक फंड ट्रांसफर सिस्टम हे जिसके द्वारा आप एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक अकाउंट में सुरक्षित और आसानी से पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं।

NEFT शुरुआत भारत में 2005 से हुई थी| इस ट्रांसफर प्रणाली को भी RBI संचालित करती है। जिसके द्वारा कोई भी बैंक का ग्राहक एक बैंक अकाउंट से दूसरे बैंक के अकाउंट में पैसे भेज सकता है। इसमें एक शर्त यह है कि दूसरा बैंक अकाउंट भी NEFT enabled होना चाहिए। NEFT enabled बैंक की लिस्ट RBI की वेबसाइट पर देख सकते हैं।

Kachhua Kya Khata Hai | कछुए से जुड़ी विभिन्न जानकारियां

Corn flour kya hota hai | Corn flour ka matlab kya hota hai

इसमें पैसे भेजने की कोई न्यूनतम और अधिकतम सीमा नहीं होती। अतः आप बिना किसी न्यूनतम और अधिकतम सीमा की चिंता के पैसे सुरक्षित रूप से भेज और प्राप्त कर सकते हैं।

NEFT फुल फॉर्म in Hindi

N: National
E: Electronics
F: Fund
T: Transfer

NEFT की फुल फॉर्म हिंदी में राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक निधि अन्तरण होती है।

NEFT कैसे किया जाता है ?

NEFT 2 विधियों द्वारा किया जा सकता है।

1. ऑनलाइन प्रक्रिया द्वारा NEFT
2. ऑफलाइन प्रक्रिया द्वारा NEFT

1. ऑनलाइन प्रक्रिया द्वारा NEFT

ऑनलाइन प्रक्रिया द्वारा NEFT करने के लिए आपको कुछ चरण नीचे दिए गए हैं।

1. सर्वप्रथम अपनी बैंक की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर नेट बैंकिंग अकाउंट पर लॉगिन करें यदि नेट बेंकिंग अकाउंट नहीं है तो आप इसे रजिस्टर भी कर सकते हैं।

2. इसके बाद आपको जिस भी व्यक्ति को पैसे भेजने हैं उसकी कुछ जानकारी वहां जोड़नी होती है। जैसे: उस व्यक्ति का नाम, बैंक अकाउंट नंबर, IFSC कोड, और उसका अकाउंट टाइप।

3. अकाउंट ऐड होने के बाद आप NEFT मोड सकते हो और जितनी राशि भेजनी है एंटर करके आप भेज सकते हैं।

Google Tumhara Naam Kya Hai | Tumhara Naam Kya Hai 

OTT Full Form In Hindi | OTT Kya Hai | ओटीटी प्लेटफार्म के बारे में पूरी जानकारी

2. ऑफलाइन प्रक्रिया द्वारा NEFT

इस प्रक्रिया में भी आपको कोई ज्यादा विशेष काम नहीं करना है नीचे बताए गए कुछ चरण देख सकते हैं।

1. सर्वप्रथम आपको अपनी बैंक के ब्रांच जाना होगा।

2. इसके बाद वहां से लेकर एक NEFT/RTGS फॉर्म भरे। जिसमें आपको सामने वाले की कुछ जानकारी भरनी होती है जैसे: उस व्यक्ति का नाम, अकाउंट नंबर, बैंक का नाम, बैंक की ब्रांच, IFSC कोड, अकाउंट टाइप, और जितना अमाउंट जितना आप भेजना चाहते हैं।

3. इसके बाद फॉर्म को बैंक में सबमिट कर देना है।

NEFT Transfer के चार्जेस क्या है ?

यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि जो व्यक्ति पैसे भेजता है उसे इन चार्जेस इसका भुगतान करना पड़ता है एवं जो व्यक्ति पैसे प्राप्त करता है उसे किसी प्रकार के चार्जेस का भुगतान नहीं करना पड़ता। चार्ज की जानकारी निम्नलिखित है :

1. यदि आपका अमाउंट 10 हजार तक होता है तो आपको 2.50 रुपए + GST भुगतान करना पड़ेगा।

2. यदि आप का अमाउंट 10 हजार से 1 लाख के बीच है तो आपको 5 रुपए + GST भुगतान करना पड़ेगा।

3. यदि आप का अमाउंट 1 लाख से 2 लाख के बीच है तो आपको 15 रुपए + GST भुगतान करना पड़ेगा।

4. 2 लाख से ऊपर के सभी ट्रांजेक्शन पर आपको 25 रुपए + GST भुगतान करना पड़ेगा।

ध्यान रखें यह चार्ज समय-समय पर बदलते रहते हैं तो कृपया अपनी बैंक में पहले इस बारे में अवश्य जान लेवे।

IPD full form in hindi | IPD फुल फॉर्म क्या है ? पूरी जानकारी

PAC क्या है | What is PAC in hindi | PCA के बारे में पूरी जानकारी

NEFT और RTGS में क्या अंतर है ?

आइए अब तुलना के विभिन्न बिंदुओं के माध्यम से NEFT और RTGS के अंतर को समझते हैं। वे इस प्रकार हैं :

1. सबसे पहला और महत्वपूर्ण अंतर यह है कि RTGS में आप 2 लाख रुपए से कम नहीं भेज सकते है जबकि NEFT में ऐसी कोई न्यूनतम सीमा नहीं होती।

2. RTGS में आपको 2 लाख रुपए से ऊपर के ट्रांजेक्शन पर 55 रुपए देने होते हैं वही NEFT पर ₹25 + GST चार्ज देना होता है।

3. RTGS मे पूरे प्रोसेस को रियल टाइम पर निपटाया जाता है जबकि NEFT में Hourly Basis में Bank Working Hours के दोैरान निपटाया जाता है।

4. RTGS का इस्तेमाल अधिक पैसों के लेन-देन के लिए किया जाता है वही NEFT का इस्तेमाल कम पैसों के ट्रांजेक्शन के लिए किया जाता है।

RTGS और NEFT की ट्रांजेक्शन टाइमिंग के लिए आप अपनी Bank की वेबसाइट देखकर अच्छे से पता लगा सकते हैं।

CNG ka full form | CNG ka full form kya hota hai

PDP full form in hindi | PDP full form in computer

हमें उम्मीद है दोस्तों इस आर्टिकल RTGS full form in hindi | NEFT full form in hindi को पढ़ कर आपके दिमाग में उठ रहे RTGS क्या है ? RTGS की फुल फॉर्म क्या है? RTGS कैसे किया जाता है ? NEFT क्या है ? NEFT कैसे किया जाता है ? और इससे संबंधित सभी प्रश्नों के उत्तर आपको यह आर्टिकल पढ़ने के बाद मिल गए होंगे और आर्टिकल पढ़ने में मजा अवश्य आया होगा। यदि आपको लगता है कि किसी मित्र या संबंधी को इस जानकारी की आवश्यकता है तो उन्हें जरुर साझा करें।

यदि आपके मन में आर्टिकल से संबंधित कोई प्रश्न या सुझाव है तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं ताकि हमें आपकी विचारों से कुछ सीखने का अवसर मिले।

यदि आप हमसे सोशल मीडिया पर जुड़ना चाहते हैं तो नीचे दिए गए सोशल आइकन पर क्लिक करके वहां जुड़ सकते हैं। इसके साथ ही हम रोजाना ऐसी ही महत्वपूर्ण जानकारियां लाते रहते हैं तो आप घंटी के आइकन पर क्लिक कर नोटिफिकेशन ऑन कर सकते हैं ताकि सबसे पहले जानकारी आप तक पहुंच सके।

CBI ka Full form | CBI full form in hindi

ADG full form | ADG full form in hindi

Related Articles

[td_block_social_counter facebook="tagdiv" twitter="tagdivofficial" youtube="tagdiv" style="style8 td-social-boxed td-social-font-icons" tdc_css="eyJhbGwiOnsibWFyZ2luLWJvdHRvbSI6IjM4IiwiZGlzcGxheSI6IiJ9LCJwb3J0cmFpdCI6eyJtYXJnaW4tYm90dG9tIjoiMzAiLCJkaXNwbGF5IjoiIn0sInBvcnRyYWl0X21heF93aWR0aCI6MTAxOCwicG9ydHJhaXRfbWluX3dpZHRoIjo3Njh9" custom_title="Stay Connected" block_template_id="td_block_template_8" f_header_font_family="712" f_header_font_transform="uppercase" f_header_font_weight="500" f_header_font_size="17" border_color="#dd3333"]
- Advertisement -spot_img

Latest Articles

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: